कांन्तकारियों के गांव शेरपुर में अमर शहीदों की स्मृति में इनामी कुस्ती दंगल प्रतियोगिता हुई सम्पन्न, देश के नामी गिरामी पहलवानों ने बिखेरा अपना जल्वा।

 

भांवरकोल । क्षेत्र के क्रांतिकारियों के गांव शेरपुर में अष्ट शहीदों की स्मृति में आयोजित इनामी दंगल प्रतियोगिता का सोमवार को आयोजन सम्पन्न हुआ।दंगल में जहां नवोदित पहलवानों ने अपनी चमक बिखेरी वही बड़े जोड़ के पहलवानों ने अपने दमखम का शानदार प्रदर्शन किया। बड़े जोड़ में बरेका के निगम पहलवान बलिया केसरी कुंज बिहारी को 2 मिनट में चीत कर आसमान दिखाया। वही सुजीत पहलवान जौनपुर और पप्पू पहलवान मुहम्मदाबाद का मुकाबले में सुजीत ने बाजी मारी। अन्य जोड़ के पहलवानों में अरविंद सारनाथ दीपक पहलवान गाजीपुर का मुकाबला बराबरी पर रहा राजेश कुमार डीएलडब्लू एवं संदीप का मुकाबला भी बराबर है अजय राय शेरपुर पंकज बिहार का मुकाबला भी बराबर पर छूटी जबकि बलिया केसरी राहुल पहलवान परमेश्वर का मुकाबला बराबरी पर रहा। दंगल में 50 हजार के इनामी कुस्ती सुमीत वाराणसी एवं हरियाणा के मृत्युंजय पहलवान हरियाणा के बीच हुआ। दस मिनट का मुकाबला अंन्त में बराबरी पर छूटा। पूर्व पूर्वांचल केसरी संदीप का मुकाबला भी बराबरी पर छूटा। इस मौके पर प्रधान प्रतिनिधि जय नंद राय एवं मुहनदाबाद इंटर कॉलेज के प्रबंधक अवध नारायण राय में कुश्ती दंगल का फीता काटकर शुभारंभ किया इस मौके पर अतिथियों ने कहा कि कुस्ती कला हमारे गा़मीण क्षेत्र की पुरानी परंपरा रही है। लेकिन यह धीरे-धीरे यह विलुप्त होने जा रही है। ऐसे में इस तरह से ग्रामीण क्षेत्र में आज उनसे ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभाओं को अपनी कुस्ती कला को दिखाने का अवसर प्राप्त होता है। इस मौके पर युवा समाजसेवी हिमांशु राय, बसपा नेता माधवेंद्र राय ,चंदनी पब्लिक स्कूल के निदेशक नवीन राय, विकास राय, पीयूष राय, दुर्गा राय इंद्रासन राय, मुन्ना पहलवान,जुबेर खान, ज्ञानेंद्र राय दीपक पहलवान, टून्नू मास्टर, ओम प्रकाश राय मुन्ना आनंद राय पहलवान, दामोदर राय, विपिन राय आदि लोग शामिल रहे ।निर्णायक की भूमिका अंतर्राष्ट्रीय पालन एवं प्रशिक्षक रामबदन राय एवं सेना के राष्ट्रीय पहलवान कन्हैया यादव एवं संचालन पहलवान हरेंद्र यादव ने किया।अंन्त में कार्यक्रम के संयोजक पूर्व जिला केशरी विकास राय ने सभी आगंतुकों के प्रति आभार प्रकट किया।