चाइल्डलाइन द्वारा नेकी की दीवार के अंतर्गत किया गया निशुल्क वस्त्र वितरण

 

बच्चे सुरक्षित तो देश सुरक्षित- स्टेशन अधीक्षक

 

महिला एवं बच्चों की सुरक्षा करना हम सबकी जिम्मेदारी- जीआरपी प्रभारी

 

प्रतापगढ़-महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा संचालित आपातकालीन चाइल्ड लाइन 1098 प्रतापगढ़ द्वारा रेलवे परिसर में मदन मोहन मालवीय जयंती, तुलसी पूजन एवं क्रिसमस डे के अवसर पर नेकी की दीवार कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें चाइल्डलाइन 1098 द्वारा नेकी की दीवार कार्यक्रम में लोगो ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। रेलवे स्टेशन अधीक्षक प्रतापगढ़ सुरेश कुमार यादव द्वारा आशा दीप प्रज्जवलित किया गया एवं राजकीय रेलवे पुलिस प्रभारी पप्पू यादव द्वारा फीता काट कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया गया। पप्पू यादव ने चाइल्डलाइन के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि महिला एवं बच्चों की सुरक्षा करना हम सबकी जिम्मेदारी है।

इस अवसर पर चाइल्ड लाइन के निदेशक नसीम अंसारी द्वारा कार्यक्रम के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इस कड़ाके की ठंड में 0से 18 वर्ष के बच्चों व महिलाओं के लिए ठंड से बचने के लिऐ नि :शुल्क वस्त्र का वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

हमारा प्रयास है जनपद प्रतापगढ़ में ऐसी नेकी की दीवार रेलवे परिसर में लगाकर गरीबों की मदद किया जाएगा। उक्त क्रम में

बाल कल्याण समिति के सदस्य अजय सिंह ने कहा कि बच्चों के अधिक ध्यान दिया जाए। अगर ऐसा कोई परिवार जो बच्चों के स्वास्थ्य पर लापरवाही करता है तो उन्हें चिन्हित कर बाल न्यायालय को अवगत कराएं। इसी क्रम में महिला कल्याण अधिकारी जया यादव ने कहा कि

महिला अधिकार पर चर्चा करते हुए कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हमारा देश खेल से लेकर तकनीकी और शिक्षा के क्षेत्र में महिलाओं का भी उतना ही योगदान है जितना कि पुरुषों का हम सब महिला अधिकारों के प्रति जागरूक होना होगा। एडवोकेट दीपेंद्र मिश्रा ने अपने उद्बोधन में कहा कि

18 वर्ष से कम आयु वाले समस्त मनुष्यों के लिए मूलभूत स्वयत्ता तथा जन्मजात अधिकार बाल अधिकार है बच्चों के चेहरे पर मुस्कान देना हम सभी का कर्तव्य है।

कार्यक्रम के अंत में देश की लोकतांत्रिक परंपराओं की मर्यादा को बनाए रखने के लिए मतदाताओं को मताधिकार के प्रति शपथ दिलाई गई।

कार्यक्रम का संचालन के हकीम अंसारी ने किया।

अंत में कार्यक्रम के संयोजक चाइल्डलाइन के सिटी कोऑर्डिनेटर अर्पित श्रीवास्तव ने अपना विचार व्यक्त करते हुए उपस्थित अतिथियों के प्रति आभार प्रकट किया।

चाइल्डलाइन टीम मेंबर-आजाद, सोनिया, रीना, बीनम, हुस्नारा,अभय, महेताब आदि लोगों की सक्रिय भूमिका रही।