धूमधाम से मनाई गई पं. रामराज शुक्ल की जयंती, स्वतंत्रता आंदोलन व शिक्षा तथा सार्वजनिक क्षेत्र मे योगदान की हुई सराहना

फोटो-04 सांगीपुर के गांधी इण्टर कालेज मे महामना रामराज शुक्ल के चित्र पर माल्यार्पण करते शिक्षक व प्रधानाचार्य

लालगंज, प्रतापगढ़। पूर्व विधायक एवं स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व शिक्षाविद पं. रामराज शुक्ल की जयंती पर सांगीपुर के गांधी इण्टर कालेज मे बुधवार को संगोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ प्रधानाचार्य सुधाकर पाण्डेय ने पं. रामराज के चित्र पर माल्यार्पण कर किया। प्रधानाचार्य सुधाकर ने कहा कि पं. रामराज शुक्ल ने स्वतंत्रता आंदोलन मे अग्रणी योगदान देकर जिले के ग्रामीण अंचल मे शिक्षण संस्थानों का संचालन कर आधुनिक भारत का खाका खींचा। धूमधाम से महामना की जयंती पर छात्राओं ने शिक्षाप्रद गीत प्रस्तुत कर सामाजिक एवं राष्ट्रीय सरोकार की मजबूती का संदेश दिया। वहीं वक्ताओं ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र मे पं. रामराज शुक्ल ने जिले को एक नई पहचान दिलायी है। उनके कुशल संचालन मे गरीब बच्चे पठन पाठन के साथ आज अपनी मेधा का प्रदर्शन करने मे सफल हैं। वहीं पं. रामराज शुक्ल के द्वारा विधायक के रूप मे सार्वजनिक क्षेत्र मे दिये गये योगदान की भी सराहना की गई। संचालन वरिष्ठ शिक्षक रामबोध शुक्ल ने किया। इस मौके पर डा. बच्चाबाबू वर्मा, रंजन त्रिपाठी, देवेशचंद्र शुक्ल, महादेव प्रसाद मिश्र बमबम, डा. आशीष सिंह, दयाराम वर्मा, श्रीधर तिवारी, इम्तियाज, हृदय नारायण मिश्र, संतोष तिवारी, बृजेश द्विवेदी, केडी दुबे, रवीन्द्र भूषण मिश्र, अनुराग उपाध्याय, रविशंकर उपाध्याय, सीपी त्रिपाठी आदि रहे।