भांवरकोल । थाना क्षेत्र के रसूलपुर गांव में बीती रात्रि में बीमारी से अजिज युवक ने फांसी लगाकर इहलीला समाप्त कर ली।

सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बताया जाता है कि गांव निवासी स्वo दुखन्ती पटेल का पुत्र कबीन्द़ (30) बर्ष रोज की भांति खाना खाने के बाद सोने चला गया।इसी बीच रात्रि में किसी समय वह घर के ठीक बगल में आम के पेड़ पर रस्सी के सहारे आत्महत्या कर ली। सुबह उसका शव पेड़ पर लटका मिला। बताया जाता है कि वह दुखन्ती पटेल के छ: पुत्रों में सबसे छोटा था।वह गांव में ही रहकर मजदूरी आदि कार्यकर परिवार का भरण-पोषण करता था। लेकिन वह पिछले आठ नौ महीने से बीमार था। उसकी दो पुत्रियां क़मश: 7 एवं 6 बर्ष एवं एक पुत 3 बर्ष का बताया गया। कबीन्द़ की मौत से उसके परिवार पर आर्थिक संकट गहरा गया है।इस सम्बन्ध में थानाध्यक्ष वागीश विक्रम सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।