अपनी बदहाली पर रो रहा है सामुदायिक शौचालय

 

संग्रामगढ़,प्रतापगढ़। शासन द्वारा जिले भर के ग्राम पंचायतों में बने सामुदायिक शौचालय रो रहा है कुछ ऐसा ही देखने को मिला विकासखंड बाबागंज के ग्राम पंचायत कोडर खुर्द में उक्त ग्राम सभा में सामुदायिक शौचालय की चारदीवारी को खड़ी कर दी गई है लेकिन व्यवस्था के नाम पर ना तो पानी की टंकी लगाई गई है समरसेबल का तो बोर हुआ है लेकिन वह भी बंद पड़ा है प्रति ग्राम सभा में शौचालय के लिए एक संविदा कर्मी भी रखे गए हैं लेकिन वेे प्रधान के घर के चक्कर काट कर चले जाते हैं और समुदायिक शौचालय को साफ नहीं किया करते हैं टॉयलेट सीट इतनी गंदी है टॉयलेट तो दूर खड़ा रहना ही मुश्किल है ऐसे में शासन द्वारा निर्धारित मानक के रूप में मानदेय ले रहे हैं और मौजूदा प्रधान की लापरवाही से उसकी देखरेख करना मुनासिब नहीं समझते हैं।