शासन के आदेश को ठेंगा दिखाते कटते मांस के दुकान

 

प्रतापगढ़

महापुरुषों एवं अहिंसा के सिद्धांत का प्रतिपादन करने वाले विभिन्न युग पुरुषों के जन्मदिवस एवं कुछ प्रमुख धार्मिक पर्वों को “अभय” अथवा “अहिंसा” दिवस के रूप में मनाया जाने के उद्देश्य से महावीर जयंती,बुद्ध जयंती,गांधी जयंती, साधु टीएल वासवानी एवं शिवरात्रि के महापर्व पर प्रदेश की समस्त स्थानीय निकायों में स्थित पशुवधशालाओं एवं गोश्त की दुकानों को बंद रखे जाने के निर्देश समय-समय पर निर्गत किए गए हैं। इस संबंध में यह निर्देश हुआ है कि महावीर जयंती बुद्ध जयंती गांधी जयंती एवं शिवरात्रि के महापर्व की भांति साधु टीएल वासवानी के जन्मदिन दिनांक 25 नवंबर 2021 को मांस रहित दिवस घोषित करते हुए प्रदेश की समस्त नगर स्थानीय निकायों में स्थित पशुवधशालाओं एवं गोश्त की दुकानों को बंद रखे जाने का निर्णय लिया गया है। यह आदेश प्रदेश के अपर मुख्य सचिव डॉक्टर रजनीश दूबे ने जारी किया है। लेकिन ठीक इसके विपरीत कंधई थाना क्षेत्र के अंतर्गत कोनी बाजार में खुलेआम मांस की दुकान पर मांस कट रहा है। क्षेत्रीय प्रशासन कहीं भी किसी भी तरह से इस नियम का पालन कराने में सफल दिखाई नहीं पड़ रहा है। जिससे यह प्रतीत हो रहा है कि यह मात्र दिखावा भर है। क्षेत्रीय प्रशासन की कथनी और करनी में बहुत अंतर है।तो कमोवेश यहीं हाल कोहंडौर थाना क्षेत्र कोहंडौर बाजार का है जहां पर खुलेआम सड़क किनारे मांस कट रहे हैं।प्रशासन हुआ लापता। आप चाहे जो करें आपकी मर्जी।