बच्चे देश का भविष्य

 

पट्टी,प्रतापगढ़।आजादी का अमृत महोत्सव विधिक सेवा सप्ताह के अंतर्गत जिला जज माननीय संजय शंकर

पाण्डेय के आदेश एवं माननीय सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण नीरज कुमार त्रिपाठी सिविल जज सीनियर डिवीजन सिविल कोर्ट प्रतापगढ़ के कुशल निर्देशन एवं उप जिलाधिकारी पट्टी डी पी सिंह के मार्गदर्शन तहसीलदार पट्टी मनोज कुमार राय सचिव तहसील विधिक सेवा समिति के संयोजन मे पट्टी तहसील क्षेत्र के ग्राम पंचायत तरदहा में निशुल्क विधिक सहायता एवं बाल अधिकार विषय पर विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें लोगों को संबोधित करते हुए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पीएलवी राम प्रकाश पाण्डेय संचालक लीगल एड क्लीनिक तहसील पट्टी ने कहा कि बच्चे देश का भविष्य है ,बाल अधिकारों का संरक्षण लोगों की जिम्मेदारी है। उन्होंने बच्चों के अधिकारों पर चर्चा करते हुए बताया कि जीवन का अधिकार, विकास का अधिकार, सुरक्षा का अधिकार, सहभागिता का अधिकार, शिक्षा का अधिकार बच्चों को प्राप्त है ,इसके अलावा बच्चों को यौन शोषण से बचाने के लिए पॉक्सो एक्ट 2012 का प्रावधान किया गया है । निशुल्क विधिक सहायता के बारे में चर्चा करते हुए बताया कि बच्चे किसी भी समस्या के संदर्भ में तहसील विधिक सेवा समिति एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के माध्यम से निशुल्क विधिक सहायता प्राप्त कर सकते हैं एवं तत्काल सहायता हेतु पुलिस हेल्पलाइन 112 ‌एव‌ चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 पर संपर्क कर सकते हैं। पैनल अधिवक्ता बिंदेश्वरी प्रसाद बिंदु पाठक ने मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि मार्च 2020 के बाद जिन बच्चों के अभिभावक की कोविड-19 से मृत्यु हुई हो ऐसे बच्चों को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अंतर्गत ₹4000 मासिक सहायता उपलब्ध कराने का प्रावधान किया गया है एवं बालिका के 18 वर्ष की उम्र पूर्ण करने पर शादी की स्थिति में ₹101000 की सहायता उपलब्ध कराने का प्रावधान किया गया है।इस अवसर पर बच्चों द्वारा एक रैली भी निकाली गई जिसको ग्राम प्रधान हरि भूषण ओझा द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।