बनी तेरहमील प्रतापगढ़।

श्रीमद् भागवत कथा मंच से ही ही परिणय सूत्र में बंधे युवक-युवती

 

क्षेत्र के पूरे भुलई धूती गांव निवासी सत्यनारायण तिवारी परिवार द्वारा आयोजित चल रहे संगीतमयी श्रीमद् भागवत कथा पुराण के छठवें दिन रुक्मणी विवाह के प्रसंग के अवसर पर युवक युवती दांपत्य सूत्र मैं बंधे जो क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है क्षेत्र के धूती गांव निवासी शिवम तिवारी पुत्र राजकुमार तिवारी व काजल पुत्री विकास देव मिश्र निवासी बंसी पट्टी जिला प्रतापगढ़ की वैवाहिक रस्में कथा मंच से ही पूर्ण की गई शनिवार को छठवें दिन महारास लीला,गोपी उद्धव संवाद एवं रुक्मणी विवाह के प्रसंग पर श्री धाम वृंदावन से पधारे कथा व्यास पूज्य श्री ज्ञानदेव सखा जी महाराज ने संगीतमयी कथा से समा बांध कर वाहवाही लूटी तदोपरांत मंच पर ही दांपत्य सूत्र बंधन की रस्म अदायगी ने सोने में सुगंध पैदा कर दी भक्त, दर्शक, वर एवं कन्या पक्ष के लोगों ने भावविभोर होकर नृत्य संगीत का आनंद उठाया।

इस मौके पर पट्टी ब्लॉक प्रमुख राकेश सिंह उर्फ पप्पू सिंह ,प.रामचन्द्र पांडेय,सुरेश मणि तिवारी,राजमणि तिवारी,मनोज तिवारी,अजय कुमार मिश्र अज्जू भैया,अनिल तिवारी,आशीष दूबे आदि मौजूद रहे।

डॉ. जलजमणि दूबे