भावरँकोल थानाध्यक्ष हे साहब अइसन केहू दारोगा बाबू नाही आएन

यह वाक्य कुण्डेश्वर के दलित मुसहर बस्तीवासियों ने उस वक्त कहा जब अचानक थानाध्यक्ष भावरकोंल बागिश विक्रम सिंह मचछटी चौकी इनचार्ज ओंकार तिवारी और अपने पूरे स्टाफ के साथ मुसहर बस्ती में पहुंचकर बच्चों के साथ अपनी खुशियों को साझा करते हुए बच्चों में मिठाइयाँ और फल वितरित किया। मिठाइयों के ढेर सारे डिब्बों को देख बच्चों सहित मुसहर बस्ती के लोगों के थानाध्यक्ष के समक्ष खुशी के आंसू छलक पड़े। पूछने पर बताया कि इस तरह का कोई भी दारोगा बाबू यहां नहीं आया जो हम लोगों के बारे में इस तरह की सोच रखकर अपनी खुशी बांटे व दीपावली त्योहार के दिन हम सभी का मुंह मीठा कराए। हम गरीबों के बारे में कोई नहीं सोचता। इस मौके पर राजेश कुमार भारती, रोहित पांडेय, सत्येंद्र यादव, आदि मौजूद थे /