कार्यकत्री उड़ीसा में, सहायिका के भरोसे चल रहा केंद्र

 

प्रतापगढ़।आंगनबाड़ी कार्यकत्री उड़ीसा में रहकर मानदेय ले रही है जबकि सहायिका के जिम्मे केंद्र है। मजे की बात तो यह है कि सुपरवाइजर और सीडीपीओ को इसकी जानकारी है। इसके बावजूद उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं हो रही है। डीपीओ ने जांच के बाद कार्यकत्री के खिलाफ कार्रवाई की बात कही है।

सांगीपुर ब्लॉक के आंगनबाड़ी केंद्र उपाध्यायपुर में तैनात कार्यकत्री सरोज देवी पिछले कई वर्ष से उड़ीसा में पति के साथ रहती हैं। आरोप है कि आंगनबाड़ी केंद्र गांव की सहायिका के भरोसे संचालित चल रहा है। इस खेल में सुपरवाइजर भी शामिल बताई जाती हैं। कहा जा रहा है कि सुपरवाइजर और कार्यकत्री दोनों एक ही गांव की हैं। ऐसे में उसकी सूचना विभाग के बड़े अधिकारियों तक नहीं पहुंच रही। ग्रामीणों का कहना है कि सहायिका कभी कभार केंद्र को खोलती हैं। अक्सर यह आंगनबाड़ी केंद्र बंद ही रहता है। इस संबंध में पूछे जाने पर प्रभारी सीडीपीओ संध्या वर्मा कहती हैं कि बीच में कार्यकत्री का मानदेय रोका गया था लेकिन फिर से चालू हो गया। इस समय मानदेय दिया जा रहा है या नहीं जानकारी नहीं है। यह सही है कि कार्यकत्री बाहर रहती है। डीपीओ पवन कुमार यादव का कहना है कि कार्यकत्री के बाहर रहने की जानकारी नहीं है। यदि जांच के दौरान मामला सही पाया गया तो सम्बन्धित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।