डीजल तथा पेट्रोल के दाम बढोत्तरी पर प्रदेश के मंत्री का बयान आम आदमी के जले पर नमक छिड़कना-प्रमोद तिवारी

सीडब्ल्यूसी मेंबर ने कोयला घोटाले तथा वैक्सीन के विदेश बेचने को लेकर भी मोदी सरकार पर जमकर बोला हमला

फोटो- 01, कैथौला गांव में युवक के आकस्मिक मौत पर परिजनों को ढांढस बंधाते प्रमोद तिवारी

02 पीपी, प्रमोद तिवारी।

लालगंज, प्रतापगढ़। केन्द्रीय कांग्रेस वर्किग कमेटी के सदस्य एवं यूपी आउटरीच एण्ड कोआर्डिनेश कमेटी के प्रभारी प्रमोद तिवारी ने प्रदेश के एक मंत्री के पेट्रोल और डीजल के दाम बढोत्तरी से जुडे एक बयान को मंहगाई से जूझ रहे आम आदमी के जख्म पर जले पर नमक छिडकना करार दिया है। श्री तिवारी ने मंत्री के इस बयान कि पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने से आम आदमी पर इसका कोई फर्क नही पड़ रहा है क्योंकि बहुत कम लोगों के पास चार पहिया वाहन है। श्री तिवारी ने कहा कि सरकार के मंत्री ने यह कहकर कि बहुत कम लोग दोपहिया वाहन का प्रयोग करते है इसके कारण पेट्रोलियम पदार्थो मे दाम बढोत्तरी से कोई फर्क नही है, यह पूरी तरह से गैरजिम्मेदाराना और सरकार के सामूहिक उत्तरदायित्व पर भी बड़ा सवाल खड़ा करता है। शुक्रवार को नगर स्थित क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना के कैम्प कार्यालय पर पत्रकार वार्ता मे श्री तिवारी ने तल्ख प्रतिक्रिया जताते हुए कहा कि पहले एक केन्द्रीय मंत्री का इस तरह गैरजिम्मेदाराना बयान आया और फिर मंहगाई नही बढने को लेकर प्रदेश मे सत्तारूढ दल के अध्यक्ष का बयान संभवतः अब सरकार के कैबिनेट मंत्री के भी सत्ता के नशे मे चूर होने का स्पष्ट प्रमाण बनकर सामने आया है। श्री तिवारी ने तंज कसा कि हर तरफ मंहगाई के बावजूद सरकार से जुड़े लोगों का इस प्रकार का बयान ऐसा प्रतीत कर रहा है कि पूरे कुएं मे ही भंाग पड गई है। सीडब्ल्यूसी मेंबर प्रमोद तिवारी ने बेहद तल्खी के साथ कहा कि भाजपा का आम आदमी के दुख तकलीफ से कोई लेनादेना नही है। बकौल प्रमोद तिवारी भाजपा को यह नही मालूम कि डीजल से सिंचाई, मड़ाई और ढुलाई होती है इसीलिए डीजल का दाम बढने से कृषि की लागत कई गुना बढ गयी है। मंत्री के बयान पर जमकर खिंचाई करते हुए प्रमोद तिवारी ने कहा कि शायद मंत्री जी को यह नही मालूम कि देश की तैतीस प्रतिशत युवा पीढी दोपहिया वाहनो से और बहुत बडी आबादी टेम्पो आटो से भी परिवहन की सुविधा प्राप्त करती है। उन्होनें कहा कि पेट्रोल व डीजल के दामो मे लगातार हो रही बढोत्तरी से देश की शत प्रतिशत आबादी रोज प्रभावित हो रही है। उन्होनें कहा कि बस इत्यादि का किराया बढ गया है तथा आम आदमी के सामान खरीदने मे इस बढोत्तरी से माल भाडा भी बढने से वह प्रभावित हो रहा है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने यह भी तंज कसा कि आज देश मे हवाई जहाज का पेट्रोल सस्ता है और टैªक्टर तथा बस एवं दोपहिया वाहनों का ईंधन मंहगा है। उन्होने सरकार से सवाल पूछा कि गांव और कस्बों और बाजारो मे जो सामान उपभोक्ता की खरीद के लिए आता है उसमे माल भाडे की दरें दस से बीस प्रतिशत बढने से क्या इसकी कीमत गांव तथा कस्बो और शहरो मे रहने वाले उपभोक्ता को नही चुकानी पड रही है। श्री तिवारी ने दावे के साथ कहा कि भुखमरी के इंडेक्स मे देश का स्थान पाकिस्तान एवं बांग्लादेश तथा नेपाल से भी बदतर स्थिति मे पहुंच गया है। वार्ता के दौरान सीडब्ल्यूसी मेंबर प्रमोद तिवारी ने मंत्री के बयान को फोकस करते हुए सवालिया अंदाज मे कहा कि लगता है मंत्री जी और सरकार का इरादा डीजल और पेट्रोल के दाम मे दोहरा शतक लगाने का है। उन्होनें यह भी सवाल उठाया कि भारत के पडोसी देश पाकिस्तान एवं बांग्लादेश मे डीजल एवं पेट्रोल की कीमत के फर्क पर सरकार क्यूं नही आंकलन करती। श्री तिवारी ने सरकार को आईना दिखाते हुए यह भी कहा कि उसे शायद नही मालूम कि कोरोना काल मे बेरोजगारी बढी है किंतु लोगों की कमाई और आमदनी कदापि नही बढी है। वैक्सीन मे सौ करोड़ का आंकडा पार करने के लिए प्रमोद तिवारी ने चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टॉफ तथा देश की जनता को बधाई दी है। वहीं उन्होेनें कहा कि अभी कुल आबादी के तीस प्रतिशत से भी कम को वैक्सीनेशन हो सका है। उन्होने कहा कि चिकित्सक एवं पैरामेडिकल स्टाफ के पूरी तरह से तैयार होने के बावजूद पीएम मोदी की गलत नीतियो के चलते अभी भी सत्तर प्रतिशत आबादी को वैक्सीन नही लगी है। प्रमोद तिवारी ने कहा कि पीएम ने दूसरे देशो को वैक्सीन दे दी। यही नही प्रमोद तिवारी ने बडा हमला करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने उस बांग्लादेश को भी वैक्सीन दे दी, जहां हिन्दुओं के घर और मां दुर्गा के पाण्डाल तक जलाए जा रहे है। कोयला घोटाले के चलते देश मे भयंकर विद्युत संकट को चिंताजनक ठहराते हुए प्रमोद तिवारी ने इस विषम स्थिति के लिए भी सरकार की असंवेदनशीलता को जिम्मेदार ठहराया। श्री तिवारी ने प्रदेश के इन बयानबाज मंत्री पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह अपनी सरकार से प्रदेश का सर्वे कराकर पहले यह पता लगायें कि छुटटा जानवरो के आतंक से किसान कितना परेशान है और उसकी फसल छुटटा जानवर न चर लें इस भय से किसान क्यों बीस से तीस प्रतिशत खेती को परती छोड रहा है। उन्होनें कहा कि केंद्र एवं प्रदेश की भाजपा सरकार मे चौतरफा हर मोर्चे पर राष्ट्रीय हित के विपरीत काम हो रहा है। इसके पूर्व प्रमोद तिवारी ने कैथौला गांव पहुंचकर हाल ही में दुर्गा पूजा विर्सजन के दौरान सई मे डूबने से हुई युवक की मृत्यु पर परिजनों से मिलकर संवेदना जताई। सीडब्ल्यूसी मेंबर ने बेलहा गांव मे रामबाबू श्रीवास्तव तथा धारूपुर मे रामफकीरे साहू के संयोजन मे चल रही भागवत कथा मे भी शामिल हुए। श्री तिवारी ने अगई मोड तथा रायपुर तियांई, रामगंज बाजार, देउम चौराहा मे भी लोगों से मुलाकात कर समस्याओं की सुनवाई की। बाबा घुइसरनाथ धाम मे दर्शन पूजन कर पर्यटन विकास योजना के कार्यो का अवलोकन किया। इस मौके पर प्रतिनिधि भगवती प्रसाद तिवारी, मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल, चेयरपर्सन प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी, सांगीपुर प्रमुख अशोक सिंह बब्लू, लालगंज प्रमुख अमित सिंह, सुधाकर पाण्डेय, केडी मिश्र, ददन सिंह, पप्पू तिवारी, श्रीकांत मिश्र, शैलेंद्र मिश्र, शिव बहादुर सरोज, छोटेलाल सरोज, झुन्ना तिवारी, रामबोध शुक्ल, हरिश्चंद्र अग्रहरि, विवेक शुक्ल, त्रिभु तिवारी, डा. अमिताभ शुक्ल, लल्लन सिंह, तपन पाण्डेय आदि रहे।