वकीलों के घर दबिश को लेकर साथियों का चढ़ा फिर पारा, एएसपी से जताई नाराजगी

उत्पीड़न के खिलाफ लालगंज मे विरोध प्रदर्शन करते अधिवक्ता

प्रतापगढ़ जिला संवाददाता। सांगीपुर की घटना के नाम पर वकीलों के घर भी दबिश को लेकर मंगलवार को भी यहां वकीलों का पारा फिर चढ़ आया। तहसील के खानीपुर निवासी अधिवक्ता अजीत सिंह के घर पुलिस पहुंचने की जानकारी जैसे ही साथियों को हुई, तहसील परिसर मे बडी संख्या मे इकटठा हुए वकीलो ने पुलिस व प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी। संयुक्त अधिवक्ता संघ के उपाध्यक्ष संतोष पाण्डेय तथा महामंत्री प्रवीण यादव ने कहा कि जब सोमवार को प्रशासन ने वकीलो का उत्पीड़न न होने का भरोसा दिलाया था तो इस प्रकार की पुलिसिया कार्रवाई हमें आंदोलन शुरू करने पर मजबूर करने की ओर है। तहसील मे विरोध प्रदर्शन जताने के बाद वकीलों ने सीओ कार्यालय के सामने मौजूद एएसपी पश्चिमी रोहित मिश्र से सामूहिक मुलाकात कर सांगीपुर के मौजूदा कोतवाल की कार्यशैली पर खुली नाराजगी जताई। एएसपी ने वकीलो को फिर भरोसा दिलाया कि अब बिना सबूत के किसी भी वकील या पत्रकार का उत्पीडन पुलिस नही करेगी। इस मौके पर पूर्व अध्यक्ष अनिल त्रिपाठी महेश, विकास मिश्र, राव वीरेन्द्र सिंह, टीपी यादव, अजय शुक्ल गुडडू, विपिन शुक्ल, सुरेश मिश्र, शैलेंद्र सिंह, हरिशंकर द्विवेदी, शैलेंद्र मिश्र, सुधाकर मिश्र, अखिलेश द्विवेदी, धीरज पाण्डेय, हरेकृष्ण तिवारी, धीरेन्द्र शुक्ल, गयाप्रसाद मिश्र, सुरेन्द्र सिंह, आदि अधिवक्ता रहे।