दो दिवसीय सेमिनार / गोष्ठी

 

तरक्की के लिए इल्म लिए जरूरी है

 

भलुअनी (देवरिया)

 

तरक्की के लिए इल्म आवश्यक हैl शिक्षा के बिना जीवन व्यर्थ है। जरा गौर कीजिए और देखिए कि इल्म दुनिया के तरक्की के लिए और यहां तक ​​कि हर समय हमारे अपने विकास के लिए भी जरूरी है। हमें अपने परिवार के बच्चों, खासकर लड़कियों के लिए आज भारत में क्या हो रहा है। इस संसार में शिक्षा नहीं है, तो जीवन एक विशेषण है। जिला पंचायत सदस्य श्री कलेक्टर शर्मा ने अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा प्रायोजित दो दिवसीय सेमिनार / गोष्ठी जवाहरलाल नेहरू सेवा संस्थान देवरिया द्वारा आयोजित मां भगवती पैलेस भलुअनी के सभागार मे कहा । इस मौके पर अवसर पर जिला पंचायत सदस्य सूश्री सुमन भारती ने सरकार के साथ अभिभावक से मुस्लिम बच्चों की प्रगति के लिए कहा और शिक्षा के क्षेत्र में महिलाओं की निगरानी जरूरी है। कार्यक्रम का संचालन करते हुए लियाकत अहमद ने कहा कि लोगों में शिक्षा नहीं है, तो सब बेकार है। अगर शिक्षा होगा तो आज के डिजिटल माहौल में बहुत पीछे रह जायेगे। शौचालय योजना प्रकाश डालते हुए कहा कि अगर शौचालय मजबूरी है तो सरकारी पैसे की इंतजार नहीं करना पड़ता है। जो महिलाएं शौचालय नहीं बनवाती है। अपने परिवार के लोगों को शौचालय बनवाने के लिए मजबूर करें।

इस मौके पर प्रदीप चौरसिया, राजन तिवारी, शेषनाथ यादव, राधेश्याम यादव, रवि प्रकाश, पाल, अकबर अली, राकेश दुबे, शाहिना खातून, फातिमा खातून, अमीना खातून, आबिदा खातून, फरजाना खातून आदि ने संबोधित किया।

कार्यक्रम के उद्घाटन के अवसर पर पूर्व जिला पंचायत सदस्य धीरेंद्र प्रताप यादव तथा जिला पंचायत सदस्य धीरेंद्र यादव ने समाज की महिलाओं को विकास करने के लिए ज्ञानवर्धक बातें बतायें।