मुकदमें मे विधायक मोना तथा वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी की नामजदगी से खफा व्यापारियों ने बंद रखी दुकानें

रामपुर व धारूपुर बाजार मे बंदी के दौरान व्यापारियो ने विधायक की नामजदगी पर जताया आक्रोश

धारूपुर बाजार मे सोमवार को हुई बंदी का दृश्य

05 रामपुर बाजार मे बंद रहे प्रतिष्ठान

लालगंज, प्रतापगढ़। सांगीपुर की घटना को लेकर क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना तथा वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी की कई एफआईआर मे नामजदगी को लेकर सोमवार को भी इलाके मे विरोध का नजारा दिखा। कोतवाली के धारूपुर तथा रामपुर बावली मे प्रशासनिक कार्रवाई के विरोध मे आक्रोशित व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान दिन भर बंद रखे। दोनों बाजारो मे बंदी के चलते लोग देर शाम तक चाय पान को भी तरसते दिखे। धारूपुर बाजार मे बंदी को लेकर व्यापारियों ने खासी एकजुटता देखी गयी। एहतियातन कोतवाली पुलिस भी बाजार के चप्पे चप्पे पर मुस्तैद दिखी। वहीं रामपुर बावली बाजार मे भी प्रतिष्ठानो के बंद होने से खरीददारी के लिए आये इर्द गिर्द के गांव के लोग भी वापस लौटते दिखे। रामपुर मे व्यापार मण्डल के अध्यक्ष राजबहादुर सिंह राजू की अगुवाई मे व्यापारियों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए कहा कि एफआईआर मे प्रमोद तिवारी तथा विधायक मोना का नाम डाला जाना सत्ता का दुरूपयोग है। वहीं धारूपुर मे विरोध प्रदर्शन करते हुए व्यापारमण्डल के अध्यक्ष हिमांशु केसरवानी तथा महामंत्री आशीष मोदनवाल की अगुवाई मे व्यापारियो ने विधायक मोना तथा प्रमोद तिवारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने को पूरी तरह अनुचित व जनता का अपमान कहा है।