समारोहपूर्वक मनाई गई महामना पं. भगवानदीन दुबे की जयंती, शिक्षक विधायक ने दी सौगात

कालेज परिसर मे पं. भगवानदीन दुबे की प्रतिमा पर माल्यार्पण करते शिक्षक विधायक व अन्य

लालगंज प्रतापगढ़। पहाड़पुर स्थित बीडी दुबे इण्टर कालेज मे शनिवार को विद्यालय के संस्थापक एवं समाजसेवी पं. भगवानदीन दुबे की जयंती समारोहपूर्वक मनाई गयी। कार्यक्रम के मुख्यअतिथि शिक्षक विधायक उमेश द्विवेदी तथा डा. सौरभ मिश्र व नवीन दुबे ने पं. भगवानदीन दुबे की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। लालगंज नगर पंचायत चेयरपर्सन प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी तथा मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल ने मुख्यअतिथि उमेश द्विवेदी के साथ दीप प्रज्ज्वलन कर जयंती समारोह का शुभारंभ किया। विद्यालय की छात्रा आंचल, कंचन, प्रियंका, रूबी, खुशी सिंह, आरती शुक्ल व जूली तिवारी ने सरस्वती वंदना एवं स्वागत गान तथा संस्था विकास गीत की मनमोहक प्रस्तुतियां देकर कार्यक्रम मे मौजूद अभिभावको व अतिथियो को मंत्रमुग्ध कर दिया। बतौर मुख्यअतिथि शिक्षक विधायक उमेश द्विवेदी ने कहा कि स्वर्गीय पं. भगवानदीन दुबे ने समाज को साक्षर बनाने के लिए आजादी के दौर मे विद्यालय की स्थापना तथा अपने निजी खर्च से सड़क एवं चिकित्सालय व डाक घर का निर्माण कराकर विकास की मजबूत आधारशिला रखी। उन्होनें कहा कि शिक्षा की मजबूती तथा देश को साक्षर पीढ़ी सौंपकर ही हम राष्ट्रीय एवं सामाजिक विकास के लक्ष्य को हासिल कर सकते है। शिक्षक विधायक ने संस्थापक की स्मृति मे विद्यालय के प्रवेश द्वार से स्मृति स्थल तक इण्टरलाकिंग मार्ग के निर्माण कराए जाने की घोषणा भी की। उन्होनें कार्यक्रम मे मौजूद बड़ी संख्या मे तदर्थ एवं वित्तविहीन शिक्षको को भरोसा दिलाया कि प्रदेश की मौजूदा सरकार शिक्षक हितो का हर कीमत पर संरक्षण जारी रखेगी। कार्यक्रम मे अरूणांचल प्रदेश के राज्यपाल ब्रिगेडियर बीडी मिश्र की ओर से सीओ जगमोहन ने संस्थापक पं. भगवानदीन दुबे के व्यक्तित्व को भेजे गये संदेश का वाचन किया। विशिष्ट अतिथि नायब तहसीलदार आकांक्षा मिश्रा ने छात्र छात्राओं से मेहनत व परिश्रम से सफलता के ध्येय की ओर बढ़ने का आहवान किया। विशिष्ट वक्ता ज्ञानप्रकाश शुक्ल ने भारतीय मेधावियों के हर क्षेत्र मे सफलता का खाका खींचा। प्रधानाचार्य अखिलेश पाण्डेय ने विद्यालय की शैक्षिक प्रगति आख्या प्रस्तुत करते हुए अतिथियो का स्वागत किया। समारोह की अध्यक्षता करते हुए डा. सौरभ मिश्र ने स्वयं तथा विद्यालय प्रबन्ध समिति की अध्यक्ष सुशीला मिश्रा की ओर से विद्यालय के सर्वांगीण विकास को मजबूत बनाए जाने का संकल्प जताया। समारोह का संचालन शिक्षक सरोज सिंह ने किया। आयोजन समिति द्वारा शिक्षक विधायक उमेश द्विवेदी का सारस्वत सम्मान भी किया गया। समारोह को माशिसं के पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेश तिवारी, पूर्व मंत्री राजकिशोर शुक्ल, आलोक शुक्ल, डा. ज्ञानेंद्र नाथ त्रिपाठी, डा. शक्तिधर नाथ पाण्डेय, प्रधानाचार्य सुनील शुक्ल, बृजेश द्विवेदी, रामअवध त्रिपाठी, भानुप्रकाश पाण्डेय, राजकुमार द्विवेदी ने भी संबोधित करते हुए पं. भगवानदीन दुबे के कृतित्व व व्यक्तित्व पर प्रकाश डाला। इस मौके पर ज्ञानप्रकाश मिश्र, प्रधान देवदत्त शुक्ल, कृष्णानंद त्रिपाठी, लव त्रिपाठी, नरेन्द्र त्रिपाठी, संतोष मिश्र, सभासद बृजेंद्र पाण्डेय मंटू, अधिवक्ता विनोद मिश्र, संतोष मिश्र, शास्त्री सौरभ, बीडीसी रामसजीवन तिवारी आदि मौजूद रहे।