हिन्दी को राष्ट्र भाषा घोषित करने की मांग को लेकर प्रस्ताव पारित, एसडीएम के माध्यम से राष्ट्रपति को भेजा

आइन्सटीन पब्लिक स्कूल मे हिन्दी दिवस पर काव्यपाठ मे हिन्दी का हुआ बखान

लालगंज तहसील सभागार मे हिन्दी दिवस पर आयोजित कार्यक्र्रम मे संकल्प लेते अधिवक्ता

लालगंज प्रतापगढ़। राष्ट्र भाषा हिन्दी दिवस पर स्थानीय तहसील सभागार मे हिन्दी को अंगीकृत किये जाने का अधिवक्ताओं व कर्मचारियों समेत आम लोगों ने सामूहिक संकल्प ग्रहण किया। संयुक्त अधिवक्ता संघ की ओर से हिन्दी मित्र संघ के आहवान पर संकल्प प्रस्ताव मे राष्ट्रपति से संसद का विशेष सत्र आहूत कर अविलंब हिन्दी को राष्ट्र भाषा घोषित किये जाने के लिए कानून पारित कराने की भी मांग उठाई गई। उक्त प्रस्ताव को वकीलों ने एसडीएम को सौंपते हुए राष्ट्रपति के समक्ष भेजवाए जाने का आग्रह किया। कार्यक्रम के संयोजक एवं हिन्दी मित्र संघ के जिला संयोजक ज्ञानप्रकाश शुक्ल के नेतृत्व मे हिन्दी को अंगीकृत किये जाने का प्रस्ताव पारित होने पर सभागार मे जय हिन्दी, जय हिन्दुस्तान का जयघोष हो उठा। कार्यक्रम की अध्यक्षता अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष राममोहन सिंह व संचालन महामंत्री प्रवीण यादव ने किया। कार्यक्रम को उपाध्यक्ष संतोष पाण्डेय, पूर्व अध्यक्ष टीपी यादव, उमाशंकर मिश्र, मनन्जय यादव, राजेश द्विवेदी, विनय जायसवाल, प्रदीप द्विवेदी, रामगोपाल शुक्ल, सुरेश मिश्र मदन, दिनेश सिंह, मो. ईसा, सत्येंद्र श्रीवास्तव, अनिल महेश ने भी संबोधित किया। इस मौके पर विनोद सिंह, सुशील शुक्ल, राजेश तिवारी, अजय शुक्ल, मस्तराम पाल, शैलेन्द्र मिश्र, विपिन शुक्ल, शैलेन्द्र सिंह व घनश्याम मिश्र आदि मौजूद रहे। इसी क्रम में आइन्सटीन पब्लिक स्कूल धधुआ गाजन मे शांती देवी मानव विकास संस्थान के तत्वाधान मे हिन्दी दिवस पर कवि सम्मेलन आयोजित किया गया। कवि सम्मेलन का शुभारंभ निर्झर प्रतापगढ़ी व डा. भानुप्रताप सिंह के दीप प्रज्जवलन से हुआ। स्कूल के संरक्षक विभवभूषण शुक्ल व उप प्रधानाचार्य मनोज ओझा ने कवियों एवं साहित्यकारों को सम्मानित किया। निदेशिका श्रुति शुक्ला ने छात्रों से हिन्दी दिवस पर हिन्दी भाषा के उत्थान का आहवान किया। इस मौके पर कवियों ने हिन्दी भाषा से जुड़ी रचनाएं सुनाकर छात्रों का मनमोहा। इस मौके पर अंजनी अमोघ, फैयाज परवाना, समाजशेखर, अशोक ओझा, सत्यप्रकाश विद्यार्थी, जॉनसन जार्ज, रमेशपाल तिवारी, प्रभात सिंह, महेन्द्र पाठक, प्रदीप शर्मा, गरिमा मिश्रा, निधि पाण्डेय आदि मौजूद रहे।