राजेश सिंह
अतरौलिया थानाक्षेत्र के भेदौरा गांव के ग्रामीणो की मुख्यमंत्री से शिकायत पर नायब तहसीलदार बूढ़नपुर धर्मेंद्र सिंह के नेतृत्व में एक जांच टीम गांव में पहुंची। कोटे की दुकान में अनियमितता को लेकर जांच टीम ने लोगो का राशन कार्ड नम्बर सहित बयान नोट किया।  जांच के दौरान लोगो में कोटेदार के प्रति भारी आक्रोश दिखा। लोगो ने गांव में ही ‘कोटेदार को सस्पेंड करो’ का नारा लगाते हुए जोरदार विरोध प्रदर्शन सुरु कर दिया। बताते चलें कि 7 जून को भेदौरा के ग्रामीणो ने मुख्यमंत्री कार्यालय को एक पत्र के माध्यम से राशन वितरण में हो रही घटतौली के मामले को अवगत कराया था। जिसपर मुख्यमंत्री कार्यालय से जिलाधिकारी आज़मगढ़ को जांच कराने का निर्देश दिया गया। जिसके क्रम में 27 जून रविवार को नायब तहसीलदार के नेतृत्व में जांच टीम ने पहुंचकर जांच किया। स्थानीय गांव निवासी हेमंत कुमार ने बताया कि कोटेदार राशन वितरण में घटतौली करते हैं और प्रति यूनिट 1 किलोग्राम राशन काटते हैं। वहीं राशन 3 से 4 रु. प्रति किलोग्राम के रेट से देते हैं। गांव के ही विजय कुमार ने बताया कि उनके घर मे 6 यूनिट है और 24 किलोग्राम राशन मिलता है, जबकि मानक के अनुसार उन्हें 30 किलोग्राम राशन मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि जो सरकार द्वारा फ्री में राशन वितरित किया जा रहा है, उसमें उन्हें केवल 20 किलोग्राम राशन मिलता है, जबकि मानक के अनुसार 30 किलोग्राम राशन मिलना चाहिए। ऐसे ही तमाम लोग थे जिनकी कोटेदार से कुछ न कुछ शिकायत थी। वही कुछ लोगो की शिकायत राशन वितरण में हो रही घटतौली को लेकर थी, तो कुछ लोग कोटेदार के मनमाने व्यवहार से नाराज थे। वही कुछ लोगो का कहना था कि अंगूठा लगवाने के कई कई दिन बाद कोटेदार द्वारा राशन वितरित किया जाता है, जो गलत है । गाँव में बहुत कम लोग ऐसे भी थे जिनको पूरा राशन मिल रहा था। कोटेदार के खिलाफ भारी विरोध के बीच जांच कर रहे नायब तहसीलदार धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि जिलाधिकारी आज़मगढ़ के निर्देश पर वह कोटे की जांच करने के लिए आये हैं । उन्होंने कहा कि सबसे पहले भेदौरा गांव की हरिजन बस्ती में लोगो का बयान नोट किया गया, ततपश्चात मुस्लिम बस्ती के लोगो का बयान नोट किया गया, और आखिरी में राजभर बस्ती में लोगो का बयान नोट कर लिया गया है। हम लोगो ने जांच पूरी कर ली है और गांव के लोगो का जो भी बयान है उसे सुरक्षित रख लिया गया है। जल्द इसे जिलाधिकारी महोदय को सौप देंगे। इस मौके पर नायब तहसीलदार धर्मेंद्र सिंह, विजेंद्र सिंह आरो, सब इंस्पेक्टर रविंदर यादव, कांस्टेबल विजय आदि लोग उपस्थित थे।