श्याम सिंह
माहुल (आजमगढ़) अहरौला थाना क्षेत्र के गनवारा गाँव में रविवार को सुबह 10:00 बजे दो युवक बीरू राजभर(19) और भोलू राजभर (18) गाँव के तालाब में स्नान करने चले गए बीरू राजभर (19) वर्ष पुत्र मिठाई लाल राजभर तालाब में डाले गये सिंघाड़े के पौधे के बीच फंस गया, और डूबने से मौत हो गई। सूचना पर पहुंचे ग्रामीण और पुलिस ने काफी खोजबीन के बाद शव को बरामद किया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। गनवारा गाँव के दोनों युवक बीरू और भोलू साथ साथ रहते थे, और रविवार को दोनों गाँव के तालाब में नहाने के लिए गए थे कि बीरू अचानक पोखर में डूबने लगा और गहरे पानी में जाकर सिंघाड़े के पौधों में फंस गया बीरू के डूबने के बाद साथ मौजूद दुसरे साथी भोलू ने बीरू के डूबने की सूचना परिजनों सहित गाँव के अन्य लोगों को दी, मौके पर गाँव और पुलिस के लोग भी पहुंच गए, काफी खोजबीन के बाद बीरू राजभर का शव तालाब के गहरे पानी में सिंघाड़े के पौधों के बीच फंसा हुआ था और जैसे ही बीरू का शव तालाब से बाहर  निकाला गया कि साथी भोलू राजभर पुत्र अच्छेलाल वहां से बदहवास  स्थिति में निकल गया, और ग्रामीणों के अनुसार साथी बीरू को डूबने से ना बचा पाने के कारण जहर खा लिया जिससे उसकी स्थिति खराब होने लगी, लोगों को जब जहर खाने की बात पता चली लोगों ने आनन-फानन उसे निजी अस्पताल ले जाकर भर्ती कराया जहां उसका इलाज चल रहा है। वहीं पुलिस ने बीरू के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया बताते चलें बीरू अपने मां-बाप की इकलौती संतान है । और बीरू के  तीन बहने हैं । पिता मिठाई लाल सऊदी में रहकर सिलाई का काम करते हैं, वही माँ रीना देवी का रो रो के बुरा हाल है।