श्याम सिंह
माहुल (आज़मगढ) पवई थाना व माहुल पुलिस चौकी की पुलिस की अपराधियो के धर पकड़ हेतु गुरुवार देर रात से चल रही छापेमारी में दो पशु तश्कर गिरफ्तार कर लिए गये। मौके से पुलिस को एक कुंतल से अधिक प्रतिबंधित पशु के मांस सहित एक एक चॉपर व चाकू सहित एक मोटर साइकिल बरामद किया । पुलिस की यह कार्यवाही शुक्रवार भोर तक चली । पुलिस अधीक्षक आज़मगढ सुधीर सिंह के निर्देश के अनुपालन में पवई थानाध्यक्ष बृजेश सिंह अपराधियों के धरपकड़ हेतु माहुल चौकी क्षेत्र के बिभिन्न गावों में पुलिस टीम के साथ छापेमारी कर रहे थे। इसी क्रम में माहुल कस्बे के वार्ड नं0 1 में रह रहे व पवई थाने में वांछित व जिलाबदर अपराधी मुन्ना नोना पुत्र राजाराम के घर पहुचे। पुलिस को आता देख मुन्ना अपने भाई प्रदीप के साथ भाग निकला और अंधेरे का लाभ उठा कर फरार हो गया। जब पुलिस उसके घर मे घुसी तो देखा कि प्रतिबंधित पशु कटा पड़ा है । तथा उसकी पत्नी उषा उर्फ बदामा व उसका पिता राजाराम पुत्र फूलचंद मांस को हटाने की फिराक में है। उसके बाद पवई थानाध्यक्ष बृजेश सिंह ने इसकी सूचना माहुल चौकी प्रभारी विजय प्रकाश मौर्य को दिया। सूचना पाकर चौकी प्रभारी मय फोर्स मौके पर पहुचे और राजाराम और उसकी बहू उषा उर्फ बदामा को एक कुंतल से अधिक प्रतिबंधित पशु के मांस व एक अदद चॉपर व एक अदद चाकू सहित गिरफ्तार कर लिया। बाद में पुलिस ने उक्त मांस का मेडिकल परीक्षण हेतु सेंपल लेते हुए बाकी का डिस्पोजल करा दिया।
पुलिस ने इस मामले में मुन्ना नोना व उसके भाई प्रदीप व पत्नी उषा उर्फ बदामा व पिता राजाराम के विरुद्ध गोवध निवारण अधिनियम व पशुक्रूरता अधिनियम की सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किए गए दोनों अभियुक्तों को जेल भेज दिया। इस संबंध में चौकी प्रभारी विजय प्रकाश मौर्य का कहना है कि प्रतिबंधित पशु के मांस के साथ दो लोगो को पकड़ा गया है जिन्हें जेल भेजा जा रहा फरार की तलाश की जा रही।