नेताप्रतिपक्ष ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बांसडीह को लिया गोद , जनसेवा की सभी आधुनिक उपकरणों और व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिये करेगें हर सम्भव प्रयास ।

शैलेश सिंह

बलिया । उ0प्र0 में करोड़ो लोगों की मौत अब तक कोरोना महामारी के चलते हो चुका है , परन्तु सरकार और अधिकारी इस आंकड़े को छिपाने में जुटे है । प्रदेश में सरकार द्वारा अस्पतालों में बेड, दवाओं और जांच जैसी व्यवस्था उपलब्ध कराने में यह सरकार पूरी तरह विफल रही है ।
उक्त उदगार प्रदेश सरकार के प्रतिपक्ष नेता रामगोविन्द चौधरी के है जो सोमवार को अपने आवास जगदीशपुर पानी टंकी पर प्रेस प्रतिनिधियों से बात कर रहे थे । उन्होंने कहा कि बलिया जनपद और विशेषकर बांसडीह विधानसभा क्षेत्र में कोरोना के दुसरी लहर में लोगों की परेशानियों को मैंने अपने क्षेत्र भर्मण में देखा है और महसुस किया है कि कोरोना मरीजों को ऑक्सीजन की भयंकर कमी के चलते सैकड़ो मरीज अब तक अपनी जान गवा बैठे है । मैने 3 जून 2021को प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर इस बिषम परिस्थितियों से अवगत कराते हुए बांसडीह क्षेत्र के ग्रामसभा जितौरा के अगउर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर आक्सीजन जरनेटर प्लान्ट की तत्काल स्थापना हेतु आग्रह किया था । मेरे प्रयास से 17 जून को शासन द्वारा इस प्लांट के स्थापना हेतु 51,68,400 रुपये स्वीकृति कर कार्यदायी संस्था को अविलम्ब निर्माण करने का निर्देश प्राप्त हुआ है । कोरोना की तीसरी लहर आने से पूर्व यह आक्सीजन जरनेटर प्लान्ट न सिर्फ बांसडीह क्षेत्र के लिये अपितु पूरे जनपद के लिये संजीवनी साबित होगी ।
नेताप्रतिपक्ष श्री चौधरी ने कहा कि मै कोरोना से स्वयं पीड़ित रहा हूं और मैने इस महामारी के बीच लोगों के बीच जाकर भी उनकी बेबसी और पीड़ा को महसुस किया है । मैने इस महामारी में अपने विधायक निधि से भी प्राथमिक स्वा0 केंद्र मनियर में 2 , बेरूवारबारी में 2,रेवती में 4 , बांसडीह में तीन तथा सदर अस्पताल में पांच आक्सीजन कन्सनटेटर भी जनसेवा हेतु उपलब्ध कराया है । आजादी के बाद जनता ने ऐसी त्रादसी और पीड़ा कभी नहीं झेली है । इस महामारी में सिर्फ उ0प्र0 में करोड़ों लोग अपनी जान गवां बैठे और जो बचे है वे भूखों मरने के कागार पर है । सरकार के द्वारा जैसी जनता की मदद मिलनी चाहिये वैसी नही मिल पाई है । उन्होंने कहा कि मैंने विधानसभा में भी प्रत्येक मृत कोरोना मरीजों के परिवारों को 50-50 लाख रुपये सरकार द्वारा आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने की आवाज उठाई है । उन्होंने कहा कि सरकार कोरोना की तीसरी लहर आने से पूर्व सभी स्वास्थ केंद्रों पर आक्सीजन , बेड, दवा और जांच की व्यवस्था स्थापित करें । इस अवसर पर श्री चौधरी ने घोषणा की कि वे अपने विधानसभा क्षेत्र बांसडीह प्रा0 स्वा0 केंद्र को गोद लेते है और इस अस्पताल में जनसेवा की सभी आधुनिक उपकरणों और व्यवस्था को बेहत्तर बनाने का वह हर सम्भव प्रयास करेगें ।