बलिया। घर गिरने एवं उसमें दब जाने के भय के साए में मनियर कस्बे के वार्ड नंबर 8 जवाहर टोला निवासी शिव जी गुप्ता का परिवार जागकर रातें गुजार रहा है ।लगातार हो रही बारिश से यह परिवार परेशान है। बारिश में उसके छप्पर से टप टप बारिश की बूंदे गिर रही है। मकान का बहुत सा हिस्सा गिर चुका है। जो बचा है उसकी आड़ में यह परिवार अपना जीवन यापन कर रहा है। अंग्रेजी हुकूमत के दौरान बना यह विशाल भवन खंडहर हो चुका है ।

बताया जाता है कि शिवजी गुप्ता के पूर्वजों की कभी तूती बोलती थी ।इनका व्यापार सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पड़ोसी देश वर्मा ,भूटान ,तिब्बत ,रंगून, नेपाल ,बांग्लादेश आदि प्रांतों में पानी के जहाज के रास्ते होता था। लछू और बिलर नाम के प्रसिद्ध व्यवसायी का खांड़(चीनी) का व्यवसाय चलता था। इनकी उस समय तत्कालीन यूपी के 54 जिलों में गद्दी थी ।आज उन्हीं विलर भगत के वंशज मुफलिसी के जीवन यापन करने को मजबूर है। इस मकान में शिवजी गुप्ता पुत्र काशीनाथ गुप्ता ,इनकी बीमार पत्नी मीरा देवी, पुत्री प्रियंका एवं पुत्र विनय रहते हैं। अभी तक इनकी दुर्दशा पर शासन प्रशासन की दया दृष्टि नहीं पड़ी है।शायद शासन प्रशासन को किसी बड़ी घटना का इंतजार है।अगर शासन प्रशासन ध्यान नहीं दिया तो इस खंडहर नुमा मकान में इनकी कब्र भी बन सकती है।