शैलेश सिंह

बैरिया(बलिया) थाना दोकटी अंतर्गत दलन छपरा (हरिजन बस्ती) में चारपाई सो रहे सत्येन्द्र राम को सर्प के काटने से मृत्य हो गई । सर्प काटने से पिता की मौत होने के बाद उनके परिवार के पांच मासूमों बच्चों के सर से पिता का साया उठ गया । ग्रामीणों ने जब यह सूचना सपा के वरिष्ठ नेता व समाजसेवी सूर्यभान सिंह को दी तो वे रविवार को मृतक परिवार के घर जाकर आर्थिक मदद किया और आगे भी पीड़ित परिवार को मदद करते रहने का वादा भी किया ।
उल्लेखनीय है कि दोकटी थाना क्षेत्र के दलन छपरा दलित बस्ती निवासी अपने पिता का इकलौता पुत्र सत्येंद्र राम दो दिन पूर्व अपने घर में सो रहा था। कि किसी जहरीले सर्प ने उसे काट लिया और उसकी मौत हो गई। मौत के बाद परिवार में कोहराम मच गया।सत्येंद्र की तीन पुत्रियां हैं।सनम 15 वर्ष, अनु 13 वर्ष, शिवानी 5 वर्ष ,जबकि दो पुत्र सत्यम 11 वर्ष, शिवम 7 वर्ष है।इन पांच अनाथ बच्चों पर दुखों का पहाड़ टूट गया है। क्योंकि दादा कन्हैया राम की उम्र 80 वर्ष है।इस कारण इन मासूमों की परवरिश व भविष्य अधर में दिख रहा है। बुढ़ापे की शिकार दादा का रोते बिलखते बुरा हाल है। ऐसे में समाजसेवी सूर्यभान सिंह ने जो आर्थिक मदद पहुंचाई है ,उसकी सर्वत्र प्रशंसा हो रही है। जब समाजसेवी पीड़ित के घर पहुंचे तो वह भी अपने आप को रोक नहीं सके और उनकी आंखें भी नम हो गई। उनके साथ शैलेश सिंह, वीरेंद्र यादव, दिनेश यादव , प्रधान सतन यादव, प्रधान शुभम सिंह, योगेंद्र यादव,अजब नारायण सिंह, बसपा नेता गोपाल राम, अनुज वर्मा, चंदन सिंह, दुर्गाचरन सिंह, रामबली यादव अरुण सिंह तथा अनूप वर्मा आदि मौजूद रहे।