रिपोर्ट, आफताब आलम

आजमगढ़ से वाराणसी जाने वाले मार्ग स्थित मुहम्मदपुर से लेकर बिंद्रा बाजार, इंडियन पेट्रोल पंप तक की सड़के इतनी खराब हो गई है कि इस पर आवागमन पूर्णतया बाधित हो गया है । आजमगढ़ वाराणसी मार्ग की दुर्दशा देखते हीं बनती है, बाजार के सारे व्यापारी बेरोजगारी की स्थिति में आ गए हैं । सड़क में 3 से 4 फुट या इससे ज्यादा गहरे गड्ढे हो चुके हैं, जिससे बरसात के दिनों में पानी भर जाता है और छोटी बड़ी गाड़ियां फंस जाती हैं ।साइकिल सवार, दोपहिया सवार गड्ढे में गिर कर चोटिल हो जाते हैं, लेकिन पीडब्ल्यूडी विभाग पूरी तरह से आंखें आंखे मूंदे हुए हैं । यही नहीं जिम्मेदार पूरी तरीके से बेखबर बैठे है । लोगों को 2 साल से ज्यादा इस समस्या से परेशान होना पड़ रहा है । 1 वर्ष पूर्व इस मार्ग का निरीक्षण आजमगढ़ मंडल आयुक्त द्वारा खुद आ कर  किया गया था । उस समय पीडब्ल्यूडी विभाग और एन एच आई दोनों विभागों ने इस मार्ग से अपना अपना पल्ला झाड़ लिया था । जिस पर मंडलायुक्त द्वारा जांच बैठा कर कार्रवाई करने का निर्देश भी दिया गया था ।लेकिन 1 वर्ष बीत जाने के बाद भी अभी तक यह सिद्ध नही हो पाया कि यह मार्ग किस विभाग के अंतर्गत आता है । जिसका खामियाजा आज मुहम्मदपुर व बिंद्रा बाजार के लोग झेल रहे हैं । इस संदर्भ में बिंद्रा बाजार व मुहम्मदपुर के व्यापारियों से बात की गई तो उन्होंने बताया कि सड़कों पर विशाल गड्ढे हैं जिससे आने जाने में राहगीरों को काफी समस्याएं हो रही है जिसके चलते राहगीर इस रास्ते से नहीं आना चाहते हैं जिसकी वजह से हम लोगों की दुकानदारी पूरी तरह से खराब हो गई है । दुकानदारों का कहना है कि हम लोग भुखमरी की कगार पर पहुंच चुके हैं। जिसकी शिकायत हम लोग कई बार संबंधित विभाग के अधिकारियों से कर चुके लेकिन 2 वर्ष बीत गया है अभी तक स्थिति जस की तस बनी हुई है। हालांकि पूरी सड़क ही खराब है । अगर मुहम्मदपुर में देखा जाए तो मुहम्मदपुर में जामा मस्जिद के पास, कोहरौरा मोड़, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के पास ,बिंद्रा बाजार में नहर के पास, अमरावती कंप्यूटर सेंटर के सामने, यूनियन बैंक के सामने, काशी गोमती संयुक्त ग्रामीण बैंक के सामने, राम जानकी मंदिर पोखरे के सामने, गौरी मोड़ के सामने, पहिलेपुर मोड़ पर, बॉम्बे अलमीरा के सामने के बड़े-बड़े गड्ढे  हो गए हैं और इन गड्ढों में  बारिश का पानी लबालब भरा हुआ है  जिसके कारण  गाड़ियों का आवागमन लगभग बंद हो गया है ।
अर्ध निर्मित नेशनल हाइवे से वाहनों का गुजरना अब हो रहा है लेकिन यहां के स्थानीय लोग जो बाजार के लिए निकलते हैं उनका आवागमन बंद होने से व्यापार पूर्णतया खराब हो गया है। अब्दुल्लाह गेलेक्सी, अब्दुल्लाह मेडिकल, रामलाल बरई, विनोद शर्मा, चंदन होमियो, रेहान, अर्पित, शिव प्रकाश मोदनवाल, समेत क्षेत्र के युवा, बुजुर्ग, व्यापारियों, राहगीरों ने संबंधित विभाग तथा सरकार का ध्यान आकृष्ट कराते हुए मांग किया है कि इस मार्ग का जल से निर्माण हो जिससे इस समस्या से जल्द से हम लोगों को निदान मिल सके।