लाल बालू को प्रतिबंधित कर सरकार ने किया हजारों युवाओं को बेरोजगार – सूर्यभान सिंह

शैलेश सिंह

बैरिया, बलिया । शनिवार को बैरिया विधानसभा के सपा नेताओं की मंगलवार को एक आवश्यक बैठक जयप्रकाश नगर में सम्पन्न हुई , जिसमें समाज के हर वर्ग को साथ लेकर चलने व मिशन 2022 को फतह करने का निर्णय लिया गया ।
बैठक में बैरिया विधान सभा क्षेत्र अंतर्गत जनहित से जुड़े कई ज्वलंत मुद्दों पर विचार करते हुए सपा नेताओं ने सड़क , स्वास्थ्य, बिजली और किसानों के गेहुँ क्रय केन्द्र से सम्बंधित कई बिषयों पर जनता की हो रही परेशानियों पर व्यापक चर्चा किया । सपा नेताओं ने कहा कि सरकार पूरी तरह जनहित के मुद्दों से विमुख और तानाशाह हो गई है । जनहित के मुद्दे उठाने वालों पर फर्जी मुकदमा कर जेल में ठूसने से लोकतंत्र की सारी मर्यादायें आहत होने लगी है । चारों ओर भय , अराजकता और भृष्टाचार का माहौल व्याप्त हो गया है । लोग अपनी हक और इंसाफ की बात भी कहने में डरने लगे है । प्रसासनिक अधिकारी निरंकुश और भ्र्ष्टाचार में पूरी डूब चुके है उनपर सरकार का कोई नियंत्रण नही है और न ही कार्यलयों में बगैर सुविधा शुल्क के जनता का कोई काम हो पा रहा है । बैठक में यह निर्णय लिया गया कि समाजवादी पार्टी हर गरीब ,शोषित,पीड़ित और आमजनता के साथ है और उनके हक और इंसाफ के लिए जल्द ही एक विशाल जनांदोलन किया जाएगा ।
बैठक में सपा के वरिष्ठ नेता सूर्यभान सिंह ने कहा कि समाजवादी पार्टी का अस्तित्व और पहिचान संघर्ष पर ही आधारित है । जनता की किसी भी लड़ाई में सपा अग्रणी भूमिका निभाएगी । उन्होंने सुझाव दिया क्षेत्र हजारों नौजवान अपनी जीविकोपार्जन के लिए लाल बालू का व्यापार करते थे परन्तु एक षड्यंत्र के तहत उनके इस व्यवसाय पर प्रशासन ने विराम लगा दिया है । नौजवानों की जीविकोपार्जन को सपा गम्भीरता से ले रही है और इसके लिए संघर्ष के साथ-साथ आवश्यकता पड़ी तो हम न्यायालय का भी दरवाजा खटखटाऊगा ।
बैठक में सपा के विधानसभा उपाध्यक्ष मृत्युंजय उपाध्याय के नेतृत्व में ब्राह्मण समाज को अधिक से अधिक पार्टी के साथ जोड़ने का निर्णय लिया गया । बैठक में में प्रमुख रूप से मृतुन्जय उपाध्याय, बिरेन्द्र यादव, शैलेश सिंह , पूर्व प्रधान राजनाथ यादव, हरेन्द्र सिंह , रामबली यादव ,धनंजय सिंह, अखिलेश गुप्ता मुकेश सिंह तथा अरुण सिंह आदि लोग उपस्थित रहे ।