संदिग्ध दशा में छात्रा की मौत, बुखार के बाद रात में हुई मौत से परिजनों में मचा कोहराम
पट्टी।
बुखार आने के बाद संदिग्ध परिस्थितियों में छात्रा की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया । छात्रा पट्टी तहसील क्षेत्र के एक इंटरमीडिएट कालेज में कक्षा 11 की छात्रा थी । तेज बुखार आने पर उसे परिजन उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पट्टी ले गए जंहा उसकी गंभीर दशा को देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया था।
पट्टी कोतवाली क्षेत्र के किठौली जलालपुर गांव निवासी चिंतामणि यादव की पुत्री प्रज्ञा यादव 18 वर्ष कक्षा 11 की छात्रा थी । वह क्षेत्र के एक इंटर कालेज में पढ़ रही थी। वह दो-तीन दिन से बुखार से पीड़ित चल रही थी । परिजन उसे स्थानीय डॉक्टर से इलाज करा रहे थे।
सोमवार को स्कूल गई तो उसकी तबीयत अचानक खराब हो गई विद्यालय के अध्यापकों ने छात्रा के परिजनों को इसकी सूचना दी तो परिजन उसे घर पर ले आए और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पट्टी ले गए वहां पर उसका इलाज कराने के बाद परिजन उसे घर ले आये। लेकिन रात 12:00 बजे अचानक उसकी तबियत खराब हो गई उसे आराम न मिलता देख निजी वाहन से उसे परिजन पट्टी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए तो डॉक्टरों ने उसकी गंभीर दशा को देखते हुए प्राथमिक इलाज करने के बाद जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया ,लेकिन परिजन उसे एक निजी अस्पताल में ले जा रहे थे कि रास्ते में ही किशोरी ने दम तोड़ दिया।
प्रज्ञा यादव की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों का कहना है कि बुखार होने से छात्रा की मौत हुई है वही इस संबंध में पट्टी नगर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक डॉ नीरज सिंह से बात करने पर उन्होंने बताया कि बुखार तो सिर्फ किसी भी रोग का लक्षण है छात्र की मौत किस तरह से हुई कहा जाना मुश्किल है ।

 

रिपोर्ट बिंदु वर्मा संवाददाता पट्टी प्रतापगढ़