स्नातकोत्तर महाविद्यालय में समाप्त हुआ आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम
पट्टी।
एक सप्ताह से लगातार चल रहे हैं आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम का बुधवार को स्नातकोत्तर महाविद्यालय सभागार में धूमधाम से समापन हुआ, जिसमें महाविद्यालय के प्राध्यापक तथा छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया।
पट्टी नगर स्थित स्नातकोत्तर महाविद्यालय में पिछले एक सप्ताह से आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत विभिन्न स्तर पर कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। जिसमें आजादी के वीर सपूतों को याद करने के लिए एक सप्ताह तक विभिन्न कार्यक्रम आयोजित होते रहे। बुधवार को इसका समापन हुआ।
कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण के साथ हुआ। डॉ राम भजन अग्रहरि ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए उनकी स्तुति की तो महाविद्यालय की छात्रा वंदना दिव्या त्रिपाठी ने गीत प्रस्तुत किया ।
उसके बाद मौजूद अतिथियों का स्वागत गीत के माध्यम से स्वागत किया गया। समापन समारोह के अवसर पर महान क्रांतिकारी मदन लाल ढींगरा को याद किया गया जिन्होंने कर्जन को गोली मारकर वध किया था। इस महान क्रांतिकारी पर डॉक्टर के पी सिंह, डॉक्टर मिथिलेश त्रिपाठी ,अम्बरीष यादव ने व्याख्यान दिया उसके बाद एनएसएस तथा एनसीसी के छात्र-छात्राओं द्वारा रानी लक्ष्मीबाई के रूप में पल्लवी सिंह, भारत माता के रूप में काजल पांडे सरस्वती के रूप में शिवानी सिंह ,रानी अहिल्याबाई के रूप में दिव्या ,सरोजिनी नायडू के रूप में सावित्री देवी ने रूप में धारण करके एक विशाल रैली महाविद्यालय परिसर में निकाली।
कजरी गीत अंशु तथा रोशनी के द्वारा गाया गया कार्यक्रम में एनएसएस के अधिकारी डॉ वीरेंद्र कुमार मिश्र, डॉ सुनील विश्वकर्मा सहित अन्य प्राध्यापक उपस्थित रहे । कार्यक्रम का समापन सांस्कृतिक परिषद के सहयोग से दिलीप सिंह ने किया । कार्यक्रम का संचालन डॉक्टर शिव शेखर पांडे ने किया कार्यक्रम के अंत में महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ अखिलेश पांडे ने मौजूद लोगों के प्रति आभार प्रकट किया।