मैरवा: गुड्डू हत्याकांड में पुलिस नहीं पहुंच सकी अपने मुकाम पर

सिवान: गुड्डू हत्याकांड का खुलासा करने के छह दिन बाद भी पुलिस अब तक नाकाम है. जबकि हत्या के दूसरे दिन से ही मृतक के भतीजे को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. शनिवार को गिरफ्तार भतीजे के दोस्तों पर पुलिस ने पैनी निगाह डाली और कई मित्रों से उसके बारे में पूछताछ की. इस हत्याकांड में पुलिस भतीजे की संलिप्तता पूरी तरह मान कर चल रही है. भतीजे का फोन डिटेल्स की जांच पुलिस कर रही है. इसके अलावा सीसी टीवी फुटेज में सशंकित युवकों की धरपकड़ में भी पुलिस लगी हुई है. रविवार को भतीजे के एक मित्र को हिरासत में लेकर पुलिस कई जगह छापेमारी कर चुकी है.

 

बता दें कि गत सोमवार की सुबह आदर्श नगर के गुड्डू मद्धेशिया की हत्या उसके घर में ही बेदर्दी से कर दिया गया. उसके शव को उसके कमरे में ताला मार कर रख दिया गया. नाली के पाइप से खून टपकने के बाद लोगों की निगाहें गई और हत्या की जानकारी सबको मिल पाई. पहले तो पुलिस इसे लूट का अंजाम समझी. परंतु जांच के बाद पुलिस ने माना कि लूट की घटना नहीं हुई है. घटना के समय मृतक के भतीजे के आने-जाने के संकेतों के बाद उसे हिरासत में लेकर पूछताछ किया जा रहा है. इस संबंध में थानाध्यक्ष संजीव कुमार ने बताया कि अपराधियों तक पहुंचने में पुलिस मात्र एक कदम पीछे रह गई है.

*राजेश तिवारी*

*मैरवा: गुड्डू हत्याकांड में पुलिस नहीं पहुंच सकी अपने मुकाम पर*
सिवान: गुड्डू हत्याकांड का खुलासा करने के छह दिन बाद भी पुलिस अब तक नाकाम है. जबकि हत्या के दूसरे दिन से ही मृतक के भतीजे को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. शनिवार को गिरफ्तार भतीजे के दोस्तों पर पुलिस ने पैनी निगाह डाली और कई मित्रों से उसके बारे में पूछताछ की. इस हत्याकांड में पुलिस भतीजे की संलिप्तता पूरी तरह मान कर चल रही है. भतीजे का फोन डिटेल्स की जांच पुलिस कर रही है. इसके अलावा सीसी टीवी फुटेज में सशंकित युवकों की धरपकड़ में भी पुलिस लगी हुई है. रविवार को भतीजे के एक मित्र को हिरासत में लेकर पुलिस कई जगह छापेमारी कर चुकी है.

बता दें कि गत सोमवार की सुबह आदर्श नगर के गुड्डू मद्धेशिया की हत्या उसके घर में ही बेदर्दी से कर दिया गया. उसके शव को उसके कमरे में ताला मार कर रख दिया गया. नाली के पाइप से खून टपकने के बाद लोगों की निगाहें गई और हत्या की जानकारी सबको मिल पाई. पहले तो पुलिस इसे लूट का अंजाम समझी. परंतु जांच के बाद पुलिस ने माना कि लूट की घटना नहीं हुई है. घटना के समय मृतक के भतीजे के आने-जाने के संकेतों के बाद उसे हिरासत में लेकर पूछताछ किया जा रहा है. इस संबंध में थानाध्यक्ष संजीव कुमार ने बताया कि अपराधियों तक पहुंचने में पुलिस मात्र एक कदम पीछे रह गई है.
*राजेश तिवारी*