मारपीट की घटनाओं में मुकदमा दर्ज

लालगंज प्रतापगढ़। कोतवाली पुलिस ने मारपीट की अलग अलग घटनाओं मे पांच आरोपियो के खिलाफ सोमवार की रात केस दर्ज किया है। कोतवाली के सराय राजीव निवासी अखिलेश की पत्नी मंजू पाल ने दी गई तहरीर मे कहा है कि बीती चौबीस मई को शाम छः बजे गांव के जगदीश पाल, विकास, रीता व संगीता ने एकराय होकर लाठी डंडे से उसे मारापीटा। शोर मचाने पर आरोपियों ने पीडिता को जानलेवा धमकी दी। तहरीर के आधार पर जगदीश समेत चार के खिलाफ मारपीट व धमकी का केस दर्ज किया गया है। इधर कोतवाली के पेडरिया निवासी गणेशशंकर लाल ने भी दी गई तहरीर मे कहा है कि चौबीस मई को दिन मे दो बजे गांव के त्रिवेणी प्रसाद ने रंजिशन गालीगलौज करते हुए उसे मारापीटा। आरोपियों ने उसे शिकायत करने पर जानलेवा धमकी दी। तहरीर के आधार पर त्रिवेणी प्रसाद के खिलाफ मारपीट व जानलेवा धमकी का केस दर्ज किया गया है।

 

 

कैबिनेट मंत्री ने दिये टीकाकरण अभियान में तत्परता के निर्देश, कार्यकर्ताओं से की मुलाकात

लालगंज प्रतापगढ़। प्रदेश के ग्राम्य विकास मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह मोती सिंह ने मंगलवार को यहां निरीक्षण गृह में सोशल डिस्टेसिंग के बीच कोविड-19 के तहत किये जा रहे शासकीय उपायों की समीक्षा की। अफसरो को मंत्री मोती सिंह ने कोरोना महामारी को देखते हुए हर समय मुस्तैद रहते हुए मुख्यमंत्री के निर्देशन में टीकाकरण अभियान में प्रभावी भूमिका के निर्देश दिये। उन्होनें अफसरो को गांव में विकास विभाग द्वारा सेनेटराइजेशन अभियान मे भी और तेजी लाने को कहा। वहीं मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार इस समय कोरोना महामारी से जनता को सुरक्षित रखने के लिए सभी जरूरी चिकित्सीय प्रबन्ध सुनिश्चित कर रही है। उन्होनें कोरोना महामारी के तहत प्रदेश सरकार और केंद्र के संयुक्त टीकाकरण अभियान को उपयोगी ठहराते हुए इस अभियान को जागरूकता के तहत प्रभावी बनाये जाने में युद्ध स्तर पर कार्य करने के भी निर्देश दिये। गेहूं क्रय केन्द्रों पर किसानो को खरीद में किसी भी प्रकार की समस्या न उत्पन्न होने को लेकर भी एसडीएम को मानीटरिंग के निर्देश दिये। इसके बाद मंत्री मोती सिंह ने पार्टी कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात कर सरकार के विभिन्न अभियानो को जनता तक पहुंचाये जाने को कहा। इस मौके पर एसडीएम राहुल यादव, सीओ जगमोहन, बीडीओ मुनव्वर खां, ईओ सुभाषचंद्र सिंह, भाजपा नेता केके सिंह, पंकज सिंह, सूबेदार सिंह, राकेश सिंह, मंटू पाण्डेय, जेपी शुक्ल, आदि रहे। वहीं निरीक्षण गृह में अधिवक्ताओं के भी एक प्रतिनिधि मण्डल ने मंत्री मोती सिंह से मुलाकात कर कोरोनाकाल में वकीलों के लिए शासकीय मदद का अनुरोध किया। ज्ञापनदाताओं मे संयुक्त अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष राममोहन सिंह, पूर्व अध्यक्ष ज्ञानप्रकाश शुक्ल, विकास मिश्र, शैलेन्द्र शुक्ल, आदि अधिवक्ता रहे।

मारपीट की घटनाओं में मुकदमा दर्ज
लालगंज प्रतापगढ़। कोतवाली पुलिस ने मारपीट की अलग अलग घटनाओं मे पांच आरोपियो के खिलाफ सोमवार की रात केस दर्ज किया है। कोतवाली के सराय राजीव निवासी अखिलेश की पत्नी मंजू पाल ने दी गई तहरीर मे कहा है कि बीती चौबीस मई को शाम छः बजे गांव के जगदीश पाल, विकास, रीता व संगीता ने एकराय होकर लाठी डंडे से उसे मारापीटा। शोर मचाने पर आरोपियों ने पीडिता को जानलेवा धमकी दी। तहरीर के आधार पर जगदीश समेत चार के खिलाफ मारपीट व धमकी का केस दर्ज किया गया है। इधर कोतवाली के पेडरिया निवासी गणेशशंकर लाल ने भी दी गई तहरीर मे कहा है कि चौबीस मई को दिन मे दो बजे गांव के त्रिवेणी प्रसाद ने रंजिशन गालीगलौज करते हुए उसे मारापीटा। आरोपियों ने उसे शिकायत करने पर जानलेवा धमकी दी। तहरीर के आधार पर त्रिवेणी प्रसाद के खिलाफ मारपीट व जानलेवा धमकी का केस दर्ज किया गया है।

कैबिनेट मंत्री ने दिये टीकाकरण अभियान में तत्परता के निर्देश, कार्यकर्ताओं से की मुलाकात
लालगंज प्रतापगढ़। प्रदेश के ग्राम्य विकास मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह मोती सिंह ने मंगलवार को यहां निरीक्षण गृह में सोशल डिस्टेसिंग के बीच कोविड-19 के तहत किये जा रहे शासकीय उपायों की समीक्षा की। अफसरो को मंत्री मोती सिंह ने कोरोना महामारी को देखते हुए हर समय मुस्तैद रहते हुए मुख्यमंत्री के निर्देशन में टीकाकरण अभियान में प्रभावी भूमिका के निर्देश दिये। उन्होनें अफसरो को गांव में विकास विभाग द्वारा सेनेटराइजेशन अभियान मे भी और तेजी लाने को कहा। वहीं मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार इस समय कोरोना महामारी से जनता को सुरक्षित रखने के लिए सभी जरूरी चिकित्सीय प्रबन्ध सुनिश्चित कर रही है। उन्होनें कोरोना महामारी के तहत प्रदेश सरकार और केंद्र के संयुक्त टीकाकरण अभियान को उपयोगी ठहराते हुए इस अभियान को जागरूकता के तहत प्रभावी बनाये जाने में युद्ध स्तर पर कार्य करने के भी निर्देश दिये। गेहूं क्रय केन्द्रों पर किसानो को खरीद में किसी भी प्रकार की समस्या न उत्पन्न होने को लेकर भी एसडीएम को मानीटरिंग के निर्देश दिये। इसके बाद मंत्री मोती सिंह ने पार्टी कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात कर सरकार के विभिन्न अभियानो को जनता तक पहुंचाये जाने को कहा। इस मौके पर एसडीएम राहुल यादव, सीओ जगमोहन, बीडीओ मुनव्वर खां, ईओ सुभाषचंद्र सिंह, भाजपा नेता केके सिंह, पंकज सिंह, सूबेदार सिंह, राकेश सिंह, मंटू पाण्डेय, जेपी शुक्ल, आदि रहे। वहीं निरीक्षण गृह में अधिवक्ताओं के भी एक प्रतिनिधि मण्डल ने मंत्री मोती सिंह से मुलाकात कर कोरोनाकाल में वकीलों के लिए शासकीय मदद का अनुरोध किया। ज्ञापनदाताओं मे संयुक्त अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष राममोहन सिंह, पूर्व अध्यक्ष ज्ञानप्रकाश शुक्ल, विकास मिश्र, शैलेन्द्र शुक्ल, आदि अधिवक्ता रहे।