लॉकडाउन से बढ़ गये है रोजमर्रा की चीजें

प्रतापगढ़ ।कोरोना महामारी के चलते प्रदेश मे बढ़े लॉक डाउन ने दुकानदारों द्वारा ग्राहकों के लिये मूल्य से अधिक दामो से रोजमर्रा की चीजें बिकनी शुरु हो गया है जहाँ उपभोक्ता लॉक डाउन के लगने से खाद्य सामग्री और फल,सब्जियों की व्यवस्था के लिये बाजार व मंडियो मे सामान खरीदने के लिये सुबह से ही पहुच कर सामान खरीदने मे लग जाता है लेकिन बाजार मे बिकने वाली खाद्य सामग्री की कीमतें आसमान छू रही है सब्जियों की दुकान पर सब्जी खरीदने में ही उसका बजट धराशायी हो रहा है क्योकि आलू अब वह सीधे बिना किसी मोलभाव के 20 रुपये मे मिल रही है जो खीरा सामान्य बाजार वाले दिन 10 रुपये किलो था वह 20 रुपये किलो हो गया नींबू धनिया,मिर्च लौकी कद्दू सहित अन्य सब्जियों के दामआदि उछाल मार कर दो गुना से तीन गुना रेट बढ़ा है ऐसे मे ग्राहको को सामान खरीदने मे पसीने छूट रहे हैं लगातार बढती महगाई ने फल के दाम भी दो से तीन गुना बढ़ गया है अंगूर ,सेब,संतरा , आम ,आदि फल के दामों में भी वृद्धि हो गयी है लेकिन लॉक डाउन के चलते गृहस्थी के इन आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी भी जरुरी है लेकिन इस बढ़े हुए दाम को नियन्त्रित करने के लिये शासन प्रशासन का ध्यान कौन दिलाए जिससे अत्यंत गरीबी स्तर का जीवन बिताने वाले भी कम से कम भर पेट भोजन भी करते रहे इसके पहले ही कोरोना ने सारे काम धंधे लोगो के चौपट कर रहा है लेकिन इस बार का कोरोना बेहद खतरनाक हो चुका है और इसका असर निचले तबके पर भी पड़ रहा है उपभोक्ताओ ने शासन और प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए मूल्य नियन्त्रण की मांग की है । शासन द्वारा निर्धारित रेट से रोजमर्रा की चीजे बजट फेल कर दिया है । इसी प्रकार ब्लाक की सभी बाजारों का हाल है ।