जिलाधिकारी ने गेहूॅ खरीद की समीक्षा की, जनपद में अब तक 993 मीट्रिक टन गेहूॅ की खरीद की गयी,

 

तहसील स्तर पर लम्बित नाम भिन्नता के कृषकों का सत्यापन जल्द से जल्द किया जाये-डीएम

 

प्रतापगढ़।रबी विपणन वर्ष 2021-22 में जनपद प्रतापगढ़ में विभिन्न तहसील क्षेत्र के अन्तर्गत कुल 50 गेहूॅ खरीद केन्द्र क्रियाशील है जिनके माध्यम से गेहूॅ क्रय किया जा रहा है। जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने गेहूॅ खरीद के सम्बन्ध में जिला खाद्य विपणन अधिकारी से जानकारी ली तो बताया गया कि जनपद में अभी तक 993 मीट्रिक टन गेहूॅ 243 कृषकों से क्रय किया गया है जिसका भुगतान सीधे उनके बैंक खातों में किया जा रहा है। 27 खरीद केन्द्रों पर खरीद कर भुगतान की प्रक्रिया प्रारम्भ हो गयी है, जबकि पीसीएफ के 15 व खाद्य विभाग के 8 केन्द्रों पर खरीद की आनलाईन फीडिंग कराकर समस्या दूर की जा रही है। अब कृषक नजदीकी केन्द्रों से टोकन प्राप्त कर सकते है। जनपद में 100 कुन्तल से अधिक विक्रय करने वाले कृषकों का सत्यापन तहसील से कराये जाने के उपरान्त ही विक्रय कर सकेगें। 100 कुन्तल से नीचे विक्रय करने वाले कृषक सत्यापन की प्रक्रिया से मुक्त होगें, केवल खतौनी में नाम भिन्नता का सत्यापन उपजिलाधिकारी द्वारा किया जायेगा। जनपद में दिनांक 25 अप्रैल 2021 तक 6889 कृषकों का पंजीकरण हो गया है। जिलाधिकारी ने समस्त उपजिलाधिकारियों को निर्देशित किया है कि अपने-अपने तहसीलों में नाम भिन्नता के अवशेष कृषकों का सत्यापन जल्द से जल्द से किया जाये जिससे किसानों को गेहूॅ का न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ प्राप्त हो सके। इस वर्ष गेहूॅ का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1975 प्रति कुन्तल निर्धारित किया है। कृषक भाई नजदीकी केन्द्रों से सम्पर्क कर गेहूॅ विक्रय करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने मार्केटिंग प्रभारियों को निर्देशित किया है कि किसानों को खरीद केन्द्रों पर किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े इस पर विशेष ध्यान दें और कोविड-19 गाइडलाइन के प्रोटोकॉल के तहत किसानों से गेहूॅ खरीद की जाये।