मोना ने महामारी नियंत्रण पर संसदीय कार्यमंत्री को पत्र के जरिए सौंपे सुझाव

राज्यपाल की अध्यक्षता मे दलीय बैठक में आमंत्रण पर सीएलपी नेता ने सरकार को दिलाया सहयोग का भरोसा

लालगंज, प्रतापगढ़। सरकार के आमंत्रण पर कोरोना नियंत्रण के लिए राज्यपाल की अध्यक्षता में होने वाली दलीय बैठक के दृष्टिगत क्षेत्रीय विधायक एवं कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना ने प्रदेश में आबादी के अनुपात में टेस्टिंग प्रतिशत बढाये जाने समेत चार बिंदुओं पर अपने सुझाव दिये है। प्रदेश के वित्त एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना के द्वारा कांग्रेस विधानमण्डल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना को प्रदेश में महामारी कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप की रोकथाम के लिए पार्टी की ओर से सर्वदलीय बैठक में सुझाव मांगा गया है। क्षेत्रीय दौरे मे व्यस्तता का हवाला देते हुए सीएलपी नेता आराधना मिश्रा मोना ने कोविड-19 की रोकथाम के लिए राज्यपाल की अध्यक्षता में बैठक मे लिए जाने वाले निर्णय का समर्थन देने का भरोसा दिलाया है। संसदीय कार्यमंत्री को लिखे पत्र में पार्टी विधानमण्डल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना ने प्रदेश में आबादी के अनुपात से टेस्टिंग प्रतिशत कम होने तथा वैक्सीन की उपलब्धता में भी कमी का हवाला देते हुए इनकी बढोत्तरी कराए जाने की मांग की है। वहीं पत्र मे सीएलपी नेता मोना ने कोरोना को देखते हुए आर्थिक रूप से गरीब व्यक्तियों को जीविकोपार्जन के लिए माह में साढ़े सात हजार रूपये भी दिये जाने पर जोर दिया है। विधायक मोना ने कोविड-19 से प्रदेश को बचाने के लिए सर्वोच्च स्तर पर सर्वोच्च प्राथमिकता के तहत प्रदेश मे समस्त संसाधनों के सदुपयोग का भी सरकार से अनुरोध किया है। सीएलपी नेता मोना का संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना के माध्यम से सरकार को भेजवाए गए सुझावों को लेकर निर्गत पत्र की जानकारी यहां रविवार को मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल ने दी है।