डबल सेंचुरी के तरफ चल पडा

गांवों में आजकल चुनावी (Panchayat Election) बयार बह रही है. हर प्रत्याशी वोटर को लुभाने में जुटा है. कोई वोटर को मुर्गा पार्टी करा रहा है तो कोई किसी दूसरे तरीके से मतदाता का ध्यान आकर्षित कर रहा है. वोटर की मुर्गा पार्टी का नतीजा ये है कि पिछले दस दिन में चिकन की कीमतें दोगुनी हो गई है. कह सकते है कि पंचायत चुनाव की वजह से मुर्गे ने डबल सेंचुरी लगा दी है. और तो और अब गांव-गांव मुर्गे की होम डिलीवरी भी हो रही है. इस पंचायत चुनाव में मुर्गे के नखरे भी बढ़ गए है. जब से पंचायत चुनाव की घोषणा हुई है मुर्गे की कीमतों में दोगुने का इजाफा हुआ है. दस दिन पहले जो मुर्गा 120 या 140 तक बिक रहा था. आज उसकी कीमत 240 से 250 रुपए प्रति किलो तक हो गई है.