बद्रीनाथ के कपाट बन्द होते समय उपस्थित रहेंगे शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानन्द

बिंदु वर्मा संवाददाता

प्रतापगढ़।बद्रीनाथ के कपाट खुलने और बन्द होते समय शंकराचार्य की उपस्थिति की परम्परा को कायम रखने के लिए ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द सरस्वती बद्रीनाथधाम पहुंचेगे। 19 नवम्बर को तीन बजकर पैतीस मिनट पर बद्रीनाथ धाम के कपाट शीतकालीन के लिए बन्द हो जाएंगे ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द सरस्वती के मीडिया प्रभारी डाक्टर शैलेन्द्र योगी उर्फ योगीराज सरकार ने बताया कि 220 वर्ष बाद लगभग सन 1802 के बाद इस पुरानी परम्परा को फिर से दोबारा सुरू किया जाएगा आदि काल की परम्परा के अनुसार कपाट खुलने और बन्द होने के समय पर शंकराचार्य की उपस्थिति रहती थी उसी परम्परा को फिर से दोबारा सुरू किया जाएगा उक्त जानकारी ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द सरस्वती के मीडिया प्रभारी डाक्टर शैलेन्द्र योगी उर्फ योगीराज सरकार ने दी है।