मंदबुद्धि के परिजन पहुंचे कोतवाली परिजनों का साथ पाकर चेहरे पर दिखी खुशी की झलक

बिंदु वर्मा संवाददाता

पट्टी,प्रतापगढ़।चार दिन पूर्व पट्टी कोतवाली क्षेत्र के उपाध्यायपुर में मिले मंदबुद्धि की पहचान हो गई है। मंदबुद्धि किशोर को सीओ पट्टी ने परिजनों के हवाले कर दिया है।
चार दिन पूर्व पट्टी कोतवाली क्षेत्र के उपाध्यायपुर गांव में एक मंदबुद्धि किशोर टहलता हुआ नजर आया था । जिसकी सूचना ग्रामीणों ने 112 पुलिस को दी थी। पुलिस मौके पर पहुंचकर मंदबुद्धि को पट्टी कोतवाली लाकर पुलिस को सुपुर्द कर दिया था । इस मामले में पुलिस लगातार उसकी पहचान में जुटी हुई थी सोशल मीडिया पर चली खबरों के माध्यम से परिजनों को जानकारी हुई तो परिजन रविवार की देर शाम पट्टी कोतवाली आए । जहां पर सीओ पट्टी की मौजूदगी में मंदबुद्धि किशोर को उसके परिजनों के हवाले कर दिया गया। जानकारी के अनुसार अली रिजवी पुत्र जावेद रिजवी उम्र लगभग 17 वर्ष  वाराणसी का रहने वाला है। अली अपने नाना वाकर हुसैन के यहां मां वा अपने दो भाई वा चार बहनों के साथ रहता है। अली के नाना वाकर हुसैन जब उसके पास पहुंचे तो उसके चेहरे पर खुशी  देखते बन रही थी । पुलिस लगातार इस मंदबुद्धि बालक को लेकर परेशान रही। कई बार जिला अस्पताल का चक्कर काटने के बाद जब वहां उसका उम्र निर्धारण नहीं हो पाया तो उसे मेडिकल कॉलेज प्रयागराज रेफर किया गया था। जहां के लिए पट्टी थाने के एएसआई गुलाब सिंह उसे लेकर जा रहे थे उन्होंने बताया कि जब वह आधे रास्ते के आसपास पहुंचे थे तब यह पता चली कि उसकी पहचान हो गई है। जहां से लेकर उसे  कोतवाली  आए। देर शाम पहुंचे परिजनों के हवाले उसे कर दिया है । परिजनों के मिल जाने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली। इस संबंध में पुलिस क्षेत्राधिकारी पट्टी दिलीप सिंह ने बताया कि रविवार को परिजनों ने फोन कर जानकारी दी थी पहचान के आवश्यक दस्तावेज उनसे प्राप्त करने के बाद मंदबुद्धि को उनके हवाले कर दिया गया है।