20, 21 व 22 नवंबर को आयोजित होगा पट्टी का ऐतिहासिक दशहरा मेला

बिंदु वर्मा संवाददाता

पट्टी: वर्ष 1910 से आयोजित होने वाले पट्टी के ऐतिहासिक दशहरे मेले की औपचारिक घोषणा कर दी गई है इस वर्ष पट्टी का ऐतिहासिक दशहरा मेला 20, 21 व 22 नवंबर को संपन्न होगा जिसके लिए श्री रामलीला समिति पट्टी द्वारा पत्राचार व अन्य तैयारियां शुरू कर दी गई हैं आपको बता दें वर्ष 1910 में तत्कालीन थानेदार सेवाराम सिंह द्वारा इस ऐतिहासिक मेले की नींव रखी गई थी तब से यह ऐतिहासिक मेला आयोजित होता चला आ रहा है जिसकी देखभाल के लिए श्री रामलीला समिति का गठन भी किया गया है जिसमें वर्तमान समय में अध्यक्ष पद की कमान नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष जुग्गी लाल जायसवाल के हाथों में है वही इस मेले का ऐतिहासिक भारत मिलाप 22 नवंबर की रात्रि से शुरू होकर 23 नवंबर की सुबह समाप्त होगा मेले में दूरदराज से बच्चों के खेल खिलौने, कपड़े, बिसात खाना व तरह तरह के मनोरंजन के संसाधन आते हैं और मेले में पहुंचने वाली हजारों की भीड़ सभी संसाधनों का लुत्फ उठाती नजर आती है वहीं सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर मेला प्रभारी की भी तैनाती की जाती है जो मेला क्षेत्र में भ्रमणशील रहकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते रहते हैं, और साथ ही साथ श्री रामलीला समिति के प्रबंध समिति, कार्यकारिणी के पदाधिकारी कार्यकर्ता भी भ्रमणशील रह कर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते रहते हैं इस वर्ष आयोजित होने वाले पट्टी के ऐतिहासिक दशहरे मेले की सूचना प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से श्री रामलीला समिति के महामंत्री अशोक श्रीवास्तव ने जारी करते हुए अवगत कराया है