17 अक्तूबर को ज्योतिष पीठ बद्रिकाश्रम के शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द सरस्वती का पट्टाभिषेक होगा

शंकराचार्य सदानन्द का 14 को शारदा पीठ में व शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानन्द सरस्वती का 17 अक्तूबर को ज्योतिष पीठ बद्रिकाश्रम में होगा पट्टाभिषेक। प्रतापगढ़ जनपद के लोगों में हर्ष

ब्रम्हलीन द्वीपीठाधीश्वर शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानन्द सरस्वती जी के दोनों उत्तराधिकारी शंकराचार्यो का पट्टाभिषेक 14 व 17 अक्तूबर को होगा जिसमें द्वारिका शारदा पीठ के शंकराचार्य स्वामी सदानन्द सरस्वती का पट्टाभिषेक 14 अक्तूबर को श्रृंगेरी पीठ के शंकराचार्य स्वामी भारतीतीर्थ के शिष्य विष्णुशेखर जी द्वारा 8 बजे से सुरू होकर साम तक कार्यक्रम चलेगा। इसी प्रकार ज्योतिष पीठ बद्रिकाश्रम के शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द सरस्वती का पट्टाभिषेक 17 अक्तूबर को किया जाएगा जिसमें श्रृंगेरी पीठ के शंकराचार्य स्वामी भारतीतीर्थ जी स्वयं उपस्थित रह कर पट्टाभिषेक का कार्यक्रम सम्पन्न करेंगे। उक्त जानकारी ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द सरस्वती के मीडिया प्रभारी डाक्टर शैलेन्द्र योगी उर्फ योगीराज सरकार ने बताते हुए कहा कि उक्त दोनों कार्यक्रम सम्बंधित पीठों में होंगे ज्योतिष पीठ बद्रिकाश्रम में पट्टाभिषेक की तैयारी सुरू हो गई है इस दौरान अनेक संत महात्माओ की उपस्थिति में वेद शास्त्रीय विधि-विधान से स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द सरस्वती जी का पट्टाभिषेक 17 अक्तूबर को तय मुहूर्त के अनुसार सुबह 9 बजे से ज्योतिष पीठ बद्रिकाश्रम में सुरू होकर दोपहर 2 बजे तक ही कार्यक्रम चलेगा। शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द सरस्वती एक दिन पूर्व ही ज्योतिष पीठ बद्रिकाश्रम पहुंच जाएंगे। प्रतापगढ़ जनपद के लोगों ने हर्ष का माहौल है। और हजारों की संख्या में जाएंगे प्रतापगढ़ से लोग शंकराचार्य के गाँव ब्राम्हण पुर में चल रही है जोर दार तैयारी।उक्त जानकारी ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानन्द सरस्वती जी के मीडिया प्रभारी डाक्टर शैलेन्द्र योगी उर्फ योगीराज सरकार ने दी है