चाइल्डलाइन के सक्रियता से रूका बाल विवाह
–चाइल्डलाइन बाल विवाह रोकने में हुआ सफल

प्रतापगढ़। चाइल्डलाइन टीम ने नाबालिग की शादी रोकने में रहा सफल। रविवार की शाम मौके
पर चाइल्डलाइन की टीम ने स्थानीय पुलिस व जिला प्रोबेशन अधिकारियों रन बहादुर बर्मा की मदद से किसी तरह परिजनों को समझाने में सफल हुए। उक्त जानकारी देते हुए चाइल्ड लाइन के सदस्य हकीम अंसारी ने बताया कि फतनपुर थाना अंतर्गत रमेश की शादी (काल्पनिक नाम) जनपद जौनपुर के मछली शहर थाना के अंतर्गत गांव में 19 सितंबर 022 को बारात जाना तय था। शैक्षणिक अभिलेख के अनुसार लड़के उम्र 18 व लड़की की उम्र 17 वर्ष 2 महीने थी। कानूनी रूप से दोनों ही शादी के योग्य नहीं थे। वर वधु दोनों के परिजनों की तरफ से शादी की तैयारी बड़े धूमधाम से किया जा रहा था। शादी की सभी तैयारी पूरी की जा चुकी थी सभी जगह पहुंच गया था मेहमान वगैरह आना शुरू हो गए थे
सूचना मिलते ही चाइल्ड लाइन की टीम सक्रिय हो गई और तुरंत इसकी सूचना फतनपुर थानाध्यक्ष, पुलिस बाल कल्याण अधिकारी को दिया गया। बाल विवाह प्रतिषेध अधिकारी के मार्गदर्शन में पुलिस प्रशासन की संयुक्त टीम लड़के के घर जा पहुंचा। जहां लड़के के पिता अपनी गलती स्वीकारते हुए भविष्य में किसी भी स्थिति में बाल विवाह नहीं करने की बात कही तथा गांव के कुछ संभ्रांत व्यक्ति के सामने लिखित इकरारनामा दिया कि भविष्य में ऐसा नहीं करेंगे। चाइल्डलाइन टीम के सदस्य मेहताब खान द्वारा एक तरफ जहां अभिभावक को कानून की पूरी प्रक्रिया समझाया गया। वहीं बच्चे से मिलकर उसे बाल विवाह से होने वाले दुष्प्रभाव की जानकारी दी। बिंदु वर्मा संवाददाता पट्टी प्रतापगढ़।