संवाददाता द्वारा किया गया गांव का निरीक्षण और जाना जनता से उनका हाल नेपाल द्वारा चार लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने से गांव में दिखा तबाही का मंजर

बाराबंकी।तहसील सिरौलीगौसपुर अंतर्गत
सरयू नदी के तलहटी स्थानों में बसे गांव में नेपाल के बनबसा बैराज से 4 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने से गांव में दिखा तबाही का मंजर और तस्वीरें दिखी भयावह
ग्राम पंचायत गिदरापुर के सराय सुरजन के रहने वाले बंशीधर द्वारा बताया गया कि पानी छोड़े जाने की ना तो प्रशासन द्वारा कोई जानकारी दी गई जिसके कारण पशुओं का चारा भी पानी के साथ बह गया और धान की फसल लगभग पूरी तरह जलमग्न होकर नष्ट हो गई और रही कुही गन्ने की फसल को भी नुकसान हो सकता है तथा ग्राम पंचायत प्रधान ने अभी तक गांव के लोगों का हाल-चाल भी लेने नहीं पहुंचे
प्रशासन द्वारा गांव का निरीक्षण करने नहीं पहुंचे आला अधिकारी
और बताया गया कि यदि दूसरी बार पानी छोड़ा गया तो लोगों को मजबूरन पलायन करना पड़ेगा
देर रात अगर पानी बढ़ गया तो बांध कटने का भी खतरा बना हुआ है क्योंकि गिदरापुर गांव के पास बांध आधा कट चुका है यदि प्रशासन द्वारा बांध को तुरंत पटवा या नहीं गया तो बांध के दूसरी तरफ बसे गांव पर भी खतरा हो सकता है
बाढ़ का पानी लगभग दर्जनों गांव भौरीकोल, गोबरहा, टेपरा,तिलवारी, कोठरी गौरिया,में पानी घुस जाने से गांव के लोगों को काफी दिक्कतें उठानी पड़ रही हैं

प्रशासन की तब से अभी किसी भी तरह का पुख्ता इंतजाम नहीं किया गया है

संवाददाता राजेंद्र प्रसाद