हिन्दी दिवस पर विद्यालय के हिन्दी शिक्षकों को किया गया सम्मानित

सलेमपुर (देवरिया)। हिन्दी साहित्य के क्षेत्र मे एक विशेष कीर्तिमान स्थापित करने वाले भारतीय कवि व लेखक भारतेंदु हरिश्चंद्र के ‘निज भाषा उन्नति सब उन्नति को मूल’ के रूप मे जानी जाने वाली भाषा और राष्ट्र की राजभाषा हिन्दी के विशेष दिवस पर आज नगर के जी.एम.एकेडमी सीनियर सेकेंडरी स्कूल मे सभी हिन्दी अध्यापक अध्यापिकाओ को सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम की शुरूआत मॉ सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष विद्यालय की प्रधानाचार्या डाँ. संभावना मिश्रा एवं उपप्रधानाचार्य मोहन द्विवेदी द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया।
हिन्दी दिवस पर आयोजित उक्त सम्मान समारोह मे विद्यालय के सभी हिन्दी शिक्षक सच्चिदानंद पांडेय, धर्मेंद्र मिश्र, ज्ञानेन्द्र मिश्र एवं भारती सिंह को प्रधानाचार्या एवं उपप्रधानाचार्य द्वारा माल्यार्पण कर एवं अंगगवस्त्रम् भेट कर किया गया।
कार्यक्रम को विद्वान शिक्षक शिक्षिकाओं ने संबोधित किया।
प्रधानाचार्या डाँ. संभावना मिश्रा ने सबको हिन्दी दिवस की शुभकामना देते हुए साहित्यिक हिन्दी पर बल देने की सलाह दी। उपप्रधानाचार्य मोहन द्विवेदी ने हरिश्चंद्र जी को याद करते हुए कहा कि ‘अंग्रेजी पढि के जदपि, सब गुन होत प्रवीन, पै निज भाषा ज्ञान बिन,रहत हीन कै हीन।’
आगे उन्होंने कहा कि आज राष्ट्र बहुमुखी विकास कर रहा है, पर हिंदी को भी नजरअंदाज न किया जाय। शिक्षक, विद्यार्थी, समाज, सरकार और आमजन को भी राष्ट्र हित मे हिन्दी के उत्थान पर बल देना चाहिए।
कार्यक्रम का संचालन आशुतोष कुमार तिवारी ने किया।