जय श्रीमन्नारायण
भगवान श्री जगन्नाथ जी की कृपा एवं गुरु देवनारायण तथा आप सब के आशीर्वाद से आज प्रातः 8:30 अपने गंतव्य स्थान के लिए आपके पुत्र आपके भाई चिरंजीव विश्वम प्रकाश पांडे हिमाचल प्रदेश में पहाड़ पर चढ़ने के लिए निकले।
जिस स्थान पर पहुंचना था वहां साढे 4 घंटे पहाड़ी रास्ते पर पैदल चलते हुए एक बजे पहुंचे। ढाई सौ 300 ग्राम का घर पर जूता पहनते थे ।आज लगभग ढाई किलो ग्राम का जूता पहने थे, और 5 किलो सामान लाने के लिए जब बाजार जाते थे उसको भी गाड़ी पर रखकर लाते थे। आज लगभग 30 किलोग्राम का बैग जिसमें आवश्यक सामग्री तथा रात्रि में सोने के लिए छोटा टेंट पीठ पर बांधे चल रहे थे।
आप सबसे दास एवं दासी का अनुरोध है कि अपना आशीर्वचन प्रदान कीजिए जिससे स्वस्थ रहते हुए अपने मिशन में कामयाब होकर घर वापस लौटें।
दासानुदास ओम प्रकाश पांडे अनिरुद्ध रामानुज दास एवं नारायणी रामानुज दासी