October 24, 2020

हल्दिया रोग धान काटने में परेशानी धान काटने का नाम नही ले रहे मजदूर कपडे हो रहे है खराब

हल्दिया रोग धान काटने में परेशानी धान काटने का नाम नही ले रहे मजदूर कपडे हो रहे है खराब

देवरिया सलेमपुर लार

,

हल्दिया रोग से से किसान तो परेशान था ही अब एक और नई समस्या हो गई है मजदूरों को लेकर । गांव के छोटे बड़े किसान अपने खेतों को अक्सर  खुद या मजदूरों से कटवाने का कार्य करते हैं परंतु इस बार हल्दिया रोग को देखते हुए मजदूर भी काटने का नाम नहीं ले रहा है, डर रहा है खेत काटने समय मजदूरों के कपड़े भी खराब हो जा रहे हैं जिसपर कोई भी डिटर्जन काम नहीं करता इस हल्दिया कलर कपड़े पर लगने के बाद इसे कोई डिटर्जेंट पावडर या साबुन कपड़े को साफ नहीं कर पा रहा है इस मामले में सारे डिटर्जेंट फेल नजर आ रहा है। फेल नजर आ रहा है। शाम को खेत काटने वाले मजदूरों के चेहरे बिल्कुल पीला हो जा रहा है मजदूर डर रहे हैं कि कहीं खेतों के इस बीमारी के हल्दी जैसे पाउडर उड़ रहे हैं कहीं इससे हमारे शरीर पर कोई दुसप्रभाव तो नहीं पड़ेगा। क्योंकि यह पाउडर हमे सांस के जरिए नाक द्वारा शरीर के अंदर भी चला जाता होगा इसको लेकर मजदूर भी  सहम सा गया है। निखिल यादव पुत्र गोरख यादव परासी चकलाल स्वयं अपने खेत काट रहे थे इनका कहना है कि क्या करें सर धान में रोग तो लगाही है उपज हो या ना हो काटना तो पड़ेगा। एक तरह किसान इस हल्दिया रोग से परेशान तो था ही अब कटवाने को लेकर भी परेशानियां झेलना पड़ रहा है।रिपोर्ट इमरान अंसारी ब्यूरों चीफ देवरिया उत्तर प्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *